आजम खां के बेटे ने किया पुलिस की कार्रवाई का विरोध,जौहर युनिवर्सिटी के सामने निकाला कैंडल मार्च

New Delhi : सपा नेता और रामपुर से सांसद आजम खां के बेटे अब्दुल्ला आजम खां ने जेल से रिहा होने के बाद प्रशासन के विरोध में कल जौहर युनिवर्सिटी के सामने कैंडल मार्च निकाला। उन्होंने कहा कि “मैंने पुलिस से सर्च वारंट के बारे में पूछा। उन लोगों के पास कोई आदेश नहीं था। यह अधिकारियों और पुलिसवालों का गुंडाराज है। यह विश्वविद्यालय हमारी धरोहर है, हम लोग इसे जाने नहीं देंगे, हम इसे बचाएंगे। अगर वे चाहें तो फिर से हिरासत में ले सकते हैं।”

बता दें कि कल पुलिस ने विधायक अब्दुल्ला आजम खां को शांतिभंग करने के आरोप में हिरासत में ले लिया था। लगभग छह घंटे वह पुलिस कस्टडी में रहे। जब वे जेल से बाहर आए तो उन्होंने पुलिस की कार्रवाई का विरोध जताया। उन्होंने कहा कि पूरे राज्य में कानून नाम की कोई चीज नहीं रह गई है। पुलिस प्रशासन भी भाजपा के एजेंट की तरह काम कर रहा है।

अगर हम रामपुर पब्लिक स्कूल और जौहर युनिवर्सिटी को बचाने के लिए धरना दें तो क्षेत्र में धारा 144 लगा दी जाती है वहीं भाजपा वाले धरने पर बैठें तो कोई धारा नहीं काम आती है। रामपुर के विधायक और सपा नेता आजम खां के बेटे ने कहा कि आज यानि गुरूवार को कई जिलों के सपा कार्यकर्ता यहां आकर धरने पर बैठेंगे।

बता दें कि आजम खान की जौहर यूनिवर्सिटी में बुधवार को लगातार दूसरे दिन छापा पड़ा, जिसमें यूनिवर्सिटी से कुछ मूर्तियां बरामद की गईं ।वो मूर्तियां  नवाबों के शासन काल में रामपुर क्लब से चोरी हो गई थीं। पुलिस ने कहा कि अब्दुल्ला पुलिस के कामकाज में बाधा डाल रहे थे, इसीलिए उन्हें हिरासत में लिया गया था। इसके अलावा विश्वविद्यालय की पुस्तिकालय में मदरसा आलिया से चोरी की गई पांच सौ किताबें भी बरामद की गई। आज भी मदरसा आलिया से चोरी की गई किताबों की तलाश जारी है।