अमित शाह करेंगे 10 न’क्सल प्रभावित राज्यों का दौरा, न’क्सलियों के खिलाफ अभियानों का लेंगे जायजा

New Delhi: अधिकारियों ने जानकारी दी है कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह सोमवार को न’क्सलियों के खिलाफ चल रहे अभियानों और न’क्सल प्रभावित क्षेत्रों में विकास की पहल का जायजा लेंगे। 10 नक्सल प्रभावित राज्यों के शीर्ष पुलिस और नागरिक अधिकारियों के साथ गृह मंत्री बैठक कर सकते है । शाह के तीन महीने पहले पदभार संभालने के बाद यह इस तरह का पहला कार्यक्रम है। जानकारी के अनुसार अर्धसैनिक बलों और गृह मंत्रालय के शीर्ष अधिकारी भी बैठक में शामिल होंगे।

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने मीडिया को कहा, “गृह मंत्री न’क्सल प्रभावित क्षेत्रों में चल रही गतिविधियों की समीक्षा करेंगे।10 मा’ओवाद प्रभावित राज्यों का अमित शाह द्वारा दौरा किया जाएगा। इन 10 राज्यों में छत्तीसगढ़, झारखंड, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, बिहार, महाराष्ट्र, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश शामिल हैं।

गृह मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, 2009-13 के दौरान कुल 8,782 मा’मले सामने आए, जबकि 2014-18 के दौरान 4,969 मा’मले दर्ज’ किए गए हैं। मंत्रालय ने कहा कि सुरक्षा बल के कर्मियों सहित 3,326 लोगों ने 2009-13 में अपना जीवन खो दिया, जबकि 2014-18 में 1,321 लोगों ने अपनी जा’न ग’वाई है। 2009 और 2018 के बीच कुल 1,400 न’क्सली मा’रे गए थे। देशभर में इस साल पहले पांच महीनों में न’क्सल हिं’सा की 310 घ’टनाएं हुईं, जिसमें 88 लोग मा’रे गए थे।

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने पिछले महीने कहा था कि स्थिर सरकार की नीति के परिणामस्वरूप न’क्सल हिं’सा में लगातार गिरावट आई है। परिणामस्वरूप, 2018 में केवल 60 जिलों में एलडब्ल्यूई से संबंधित हिंसा की सूचना मिली थी। उन्होंने कहा अप्रैल 2014 और मई 2019 के बीच हिं’सा की घ’टनाओं की संख्या पूर्ववर्ती पांच साल की अवधि के साथ तुलना में 43 प्रतिशत कम है।

राष्ट्रीय नीति और कार्य योजना 2015 , Left Wing Extremism (LWE) की परिकल्पना करती है जिसमें सुरक्षा से संबंधित उपाय, विकास हस्तक्षेप, स्थानीय समुदायों के अधिकारों और अधिकारों को सुनिश्चित करना शामिल है।