325 से अधिक भारतीयों को मेक्सिको ने भेजा वापस भारत, अ’वैध रूप से अमेरिका में घुसने की थी कोशिश

New Delhi: 325 से अधिक भारतीयों को लेकर मेक्सिको से एक विशेष रूप से व्यवस्थित गै’र-अनुसूचित उड़ान आज दिल्ली हवाई अड्डे पर पहुंची है। भारतीय नागरिकों पर आ’रोप है कि इन लोगों ने अ’वैध तरीके से संयुक्त राज्य अमेरिका में घुसने का प्रयास किया था। ये सारे भारतीय अंतरराष्ट्रीय एजेंटों की मदद से पिछले कुछ महीनों में मेक्सिको के रास्ते होते हुए अमेरिका में घुसने की कवायद में जुटे थे।

प’कड़े जाने पर अब इन लोगों के भारत वापस भेज दिया गया है। इनके लिए मेक्सिको से भारत के लिए एक विशेष उड़ान का प्रबंध कर घर वापसी कर दी गई है। आज दोपहर के समय इस स्पेशल विमान ने दिल्ली में लैंड किया है। अमेरिका और मेक्सिको के बीच चल रही बॉर्डर वि’वाद का खामियाजा भारत को भी भुगतना पड़ रहा है।

भारतीय नागरिकों की घर वापसी इसी वि’वाद का नतीजा है। मेक्सिको से वतन लौटे भारतीय नागरिकों ने अपनी आपबी’ती मीडिया को सुनाई है। 325 भारतीयों की झुंड में से गौरव कुमार ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि हमारे एजेंट ने हमें जंगलों के रास्तों से होते हुए हमें वहां भेजा था। उन्होंने कहा कि हम लगभग 2 सप्ताह तक जंगलों में घूमे फिर हमें मेक्सिको से भगा दिया गया।

केवल भारतीयों को भगाया गया है, वहीं दूसरी ओर कई सारे देशों के लोगों को कुछ नहीं किया गया है। नेपाल, श्रीलंका और कैमरून के लोग अभी भी वहां मौजूद हैं। गौरव ने अमेरिका जाने के लिए अपनी पूरी जिंदगी की जमापूंजी दां’व पर लगा दी थी। खेती वाली जमीन और सोना बेच उसने 18 लाख रुपये जुटाए थे और अपने एजेंट को भुगतान किया था।