पानी संकट को लेकर मीनाक्षी लेखी ने दिल्ली जल बोर्ड के बाहर किया प्रद’र्शन

New Delhi : नई दिल्ली से भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी ने मंगलवार को आरके पुरम स्थित दिल्ली जल बोर्ड के दफ्तर के बाहर पानी की समस्या को लेकर प्रदर्शन किया। अपने क्षेत्र में पानी के संकट को लेकर मीनाक्षी  लेखी प्रद’र्शन कर रही थी। उन्होंने कहा कि उनके क्षेत्र के कई इलाके पानी की समस्या से जूझ रहे हैं।

दिल्ली जल बोर्ड का कहना है कि हम सभी क्षेत्रों में पानी पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं। वहीं भाजपा लोगों की मदद करने की बजाय इसे राजनीति का मुद्दा बना रही है। लेडी हार्डिंग स्टाफ क्वार्टर , आनंद पर्वत और बलजीत नगर में पानी की समस्या ज्यादा विकराल है। लेखी ने कहा दिल्ली के नरायणा, कृष्णा नगर और अर्जुन नगर में स्पलाई पानी तो है लेकिन वहां पिछले 10-15 दिनों से पानी नहीं आ रहा है।

मीनाक्षी लेखी ने कहा कि दिल्ली के कई ऐसे इलाके हैं जहां लोग पानी संकट को लेकर शिकायत कर रहे हैं। यही हाल आरके पुरम और अन्य कई इलाकों का भी है। लेखी ने कहा मुनीरका गांव में तो सीवेज के पानी को पीने के पानी के साथ मिलाया जाता है।

मेरा मानना है कि दिल्ली सरकार की प्राथमिकताएं बदल गई है। दिल्ली की महिलाएं जहां पानी की समस्या से परेशान है वहीं केजरीवाल मुफ्त में मेट्रो सेवा देने की बात कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें – ममता बनर्जी ने ईश्वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति को स्थापित किया, हिं’सा में तो’ड़ दी गई थी मूर्ति

लेखी ने कहा महिलाएं लंबी-लंबी कतारों में खड़ी होकर पानी भरती है। दिल्ली जल बोर्ड की पानी वितरण का तरीका काफी पुराना है और इसपे पिछले 30-35 सालों में कोई काम भी नहीं हुआ है। दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष दिनेश मोहनिया ने कहा भाजपा इस मामले को राजनीतिक रंग दे रही है।

दिनेश मोहनिया ने कहा ये सिर्फ दिल्ली की समस्या नहीं है। पूरा देश इससे प्रभावित है। हम अपनी क्षमता के अनुसार पानी की आपूर्ति कर रहे हैं लेकिन पानी की मांग बहुत तेजी से बढ़ रही है। आपको बता दें कि देश का बहुत बड़ा हिस्सा पानी की समस्या से जूझ रहा है। नदी,तालाब तेजी से सूख रहे हैं। बिहार के 40 जिलों में से 28 जिले सूखाग्रस्त हैं।