पत्नी छोड़ चुके मोदी महिलाओं का नहीं कर सकते सम्मान,अलवर रेप पर कर रहे गंदी राजनीति: मायावती

New Delhi: उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा सुप्रीमों Mayawati ने प्रधानमंत्री Narendra Modi  पर जोरदार निशाना साधा है।

Mayawati  ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री अलवर रेप’कांड पर गंदी राजनीति खेलने की कोशिश कर रहे हैं। जिससे उनकी पार्टी को लोकसभा चुनाव में राजस्थान की बाकी बची सीटों पर फायदा हो सके। बीते दिन पीएम मोदी अलवर की घटना को लेकर Mayawati  पर निशाना साधते हुए कहा कि था दलित की बेटी के साथ अलवर में हुई इस घटना पर बहनजी क्यों चुप हैं। गहलोत सरकार से समर्थन क्यों नहीं ले रही हैं।

पीएम मोदी के इसी बयान पर निशाना साधते हुए बसपा सुप्रीमों Mayawati  ने कहा कि इस घटना पर प्रधानमंत्री द्वारा राजनीति करना शर्मनाक है। राजनीतिक फायदे के लिए अपनी पत्नी को छोड़ने वाले पीएम मोदी किसी बहन और बहू का सम्मान कैसे कर सकते हैं।

Mayawati  ने कहा मुझे ये भी मालूम चला है कि बीजेपी में खासकर विवाहित महिलाएं अपने आदमियों को मोदी जी के नजदीक जाते देखकर ये सोचकर भी काफी ज्यादा घबराती है कि कहीं ये मोदी अपनी औरत की तरह हमें भी अपने पति से न अलग करवा दे।

Mayawati के इस बयान पर बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने पलटवार करते हुए कहा है कि मायावती जी को टीवी पर सुन रहा था जिन शब्दों का प्रयोग उन्होंने पीएम के लिए किया है। उससे बहुत तकलीफ होती है। आखिर ये कैसी सोच है। मोदी जी से इतनी घृणा क्यों। अपने परिवार से ज्यादा देश को परिवार माना इसलिए। मोदी जी के लिए देश बड़ा है और मायावती जी के लिए अपना भाई।

कमल हासन का विवादित बयान, बोले- आजाद भारत का पहला आतंकी था हिंदू, गोडसे का दिया उदाहरण

दरअसल कुछ दिनों पहले अलवर में हुए रेपकांड पर राजस्थान की सियासत सुलगई हुई। बीजेपी लगातर कांग्रेस की गहलोत सरकार पर निशाना साध रही है। इसी को लेकर बीते दिन पीएम मोदी ने बसपा सुप्रीमों Mayawati से गहलोत सरकार से समर्थन वापस लेने को कहा था। जिस पर मायावती ने कहा था कि अगर उचित कार्रवाई नहीं की जाती है तो वह आगे की संभावना पर विचार करेंगे।