राफेल को लेकर मायावती ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, बताया- भ्रष्टाचार का प्रतीक

New Delhi: उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने राफेल को लेकर मोदी सरकार पर जोरदार निशाना साधा है।

मायावती ने ट्वीट के माध्यम से निशाना साधते हुए कहा कि राफेल विमान सौदे में अपने बचाव में संसद और कोर्ट में बदलते तेवर और तर्क से मोदी सरकार लगातार खुद अपनी फजीहत करवा रही है। राफेल भी बोफोर्स की तरह गंभीर भ्रष्टाचार का प्रतीक बन गया है।

मायावती ने आगे कहा कि वैसे कोई भी सरकार देशहित से जुड़े मामले में इतनी लापरवाह कैसे हो सकती है। जब बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्विटर पर एंट्री की है। तब से उनके निशाने पर प्रधानमंत्री मोदी और योगी आदित्यानाथ की सरकार रहती है। लोकसभा चुनाव के नजदीक आते ही मायावती ने बीजेपी पर निशाना साधना तेज कर दिया है।

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives, Live Bihar, Live India

दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने बीते दिन राफेल सौदा मामले में पुनर्विचार याचिकार पर सरकार की शुरुआती आपत्तियों पर अपनी सुनवाई पुरी की। इस दौरान अदालत ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया। कोर्ट ने कहा कि सरकार की प्रारंभिक आप’त्ति पर फैसला होने के बाद ही तथ्यों पर विचार किया जाएगा।

बसपा के संस्थापक कांशीराम की जयंती आज, लखनऊ में मायावती देंगी श्रद्धांजलि

सुनवाई के दौरान पुनर्विचार याचिका दायर करने वाले याचिकाकर्ता गैर कानूनी रूप से प्राप्त किए गए विशेषाधिकार वाले दस्तावेजों को आधार नहीं बना सकते हैं। अर्टानी जनरल की इस दलील पर मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने कहा कि आप दस्तावेजों के विशेषाधिकार की बात कर रहे हैं। इसके लिए आपको सही तर्क पेश करने होंगे।