सपा कार्यकर्ताओं से नाराज हुईं मायावती, कहा-बसपा कार्यकर्ताओं से सीखें सपा कार्यकर्ता

New Delhi: बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने शनिवार को समाजवादी पार्टी के नेता रामगोपाल यादव के बेटे अक्षय यादव के लिए आयोजित गठबंधन की संयुक्त जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने केंद्र की एनडीए सरकार के साथ-साथ कांग्रेस पर भी निशाना साधा।

फिरोजाबाद में गठबंधन की रैली में बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बरस रहीं मायावती अचानक सपा कार्यकर्ताओं से नाराज हो गईं और उन्हें बसपा कार्यकर्ताओं से सीख लेने की नसीहत दी। असल में, जब मायावती जनसभा को संबोधित कर रही थीं, उसी बीच सपा समर्थक नारेबाजी करने लगे। इस पर वह थोड़ी नाराज हुईं और बोलीं कि बीच में नारेबाजी ना करें। बसपा के कार्यकर्ताओं से सीखें। मेरे ख्याल से सपा कार्यकर्ताओं को बसपाइयों से अनुशासन सीखने की जरूरत है। उन्होंने सपा कार्यकर्ताओं से कहा, ‘समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं को बसपा के कार्यकर्ताओं से कुछ सीखने की जरूरत है। आप लोग जो बीच में नारे लगा रहे हैं, आपको बसपा के लोगों से कुछ सीखना चाहिए। बसपा के लोग पार्टी और हमारी बात बहुत शांति से सुनते हैं।’

बहरहाल, फिरोजाबाद में अक्षय यादव के लिए प्रचार करते हुए मायावती ने जनता से अनुरोध किया कि बीजेपी और कांग्रेस के चुनाव सर्वे के बहकावे में नहीं आना है। बीजेपी ने पिछले लोकसभा में चुनावी घोषणा पत्र में जो अच्छे दिन के वादे किए थे, वो कांग्रेस की सरकारों की तरह खोखला ही साबित हुए हैं।