मनोहर लाल खट्टर ने गोपाल कांडा को नहीं दी मंत्री मंडल में जगह

New Delhi : हरियाणा में सरकार गठन के 19 दिन के बाद आखिरकार मनोहर लाल खट्टर कैबिनेट गठन हो गया है। बीजेपी और जेजेपी सरकार का पहला मंत्रिमंडल विस्तार गुरुवार को हुआ, जिसमें 10 मंत्रियों ने शपथ ली।

बीजेपी के कोटे से 8, जेजेपी के कोटे से एक और एक निर्दलीय विधायक को मंत्री बनाया गया। लेकिन चुनाव नतीजे के बाद बीजेपी को समर्थन करने वाले पहले हरियाणा लोकहित पार्टी के विधायक गोपाल कांडा को मंत्री मंडल में जगह नहीं मिल सकी है।

हरियाणा में इस बार कैबिनेट पूरी तरह से बदल गई है। मंत्रिमंडल विस्तार में 6 विधायकों को कैबिनेट मंत्री और 4 विधायकों को राज्यमंत्री पद बनाया गया है। मनोहर लाल सरकार में कैबिनेट मंत्री के तौर पर अनिल विज, कंवरपाल गुर्जर, मूलचंद शर्मा, जेपी दलाल, बनवारी लाल और रणजीत सिंह चौटाला को जगह मिली है। वहीं, जबकि ओम प्रकाश यादव, कमलेश ढांढा, अनूप धानक और संदीप सिंह को राज्य मंत्री पद से नवाजा गया है।

बता दें कि 24 अक्टूबर को हरियाणा विधानसभा चुनाव के नतीजे आए तो बीजेपी बहुमत के आंकड़े से दूर थी। ऐसे में सिरसा सीट से हरियाणा लोकहित पार्टी से चुनाव जीतने वाले गोपाल कांडा ने खुले तौर पर बीजेपी को समर्थन देने का ऐलान किया था।