ममता ने भाजपा दफ्तर पर बने कमल को मिटाकर तृणमूल का चिह्न बनाया, कार्यालय पर किया क’ब्ज़ा

New Delhi: पश्चिम बंगाल की CM ममता बनर्जी ने बीजेपी पर अपने पार्टी कार्यालय पर क’ब्ज़ा करने का आ’रोप लगाया हैं। साथ ही भाजपा के चुनावी चिन्ह कमल को मिटाकर अपनी तृणमूल पार्टी का चिह्न बना दिया हैं।

TMC और BJP में आम चुनाव खत्म होने के बाद भी जं’ग जारी है। दोनों एक-दूसरे पर आ’रोप-प्रत्या’रोप करने से थमने का नाम नहीं ले रहे है। 30 मई को भी ऐसा ही कुछ हुआ । 30 मई को CM ममता बनर्जी उत्तर 24 परगना के नैहाटी इलाके में पहुंची जहाँ वर्तमान में बीजेपी का दफ्तर है। दोनों पार्टियां इसे अपना-अपना दफ्तर बता रही है। CM ममता बनर्जी ने बीजेपी पर अपने दफ्तर पर क’ब्ज़ा करने का आ’रोप लगाया। आ’रोप लगाने के साथ ही CM ममता बनर्जी ने दफ्तर पर बीजेपी के चुनावी चिन्ह को हटाकर TMC पार्टी का चिन्ह बना दिया।

आपको बता दें कि ममता बनर्जी खुद कार्यालय के बाहर पहुंची और अपने हाथों में ब्रश लेकर TMC का चुनावी चिन्ह बनाया। टीएमसी कार्यकर्ताओं का कहना है कि बीजेपी के लोगों ने दफ्तर पर क’ब्जा कर लिया था और उसे भगवा कलर से पेंट करने के साथ ही कमल का निशान बना दिया। TMC ने बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह पर पर क’ब्ज़ा करवाने का आ’रोप लगाया है। TMC का कहना है कि अर्जुन सिंह के कहने पर ही बीजेपी के गुंडों ने ये काम किया है। जय श्री राम के ना’रे नहीं लगाने को लेकर भी ममता को घे’रा जा रहा था। जिस पर ममता बनर्जी ने कहा बीजेपी के गुं’डे उन्हें गाली दे रहे है वो इससे डरने वाली नहीं है।  वहीं, इन सबके बीच केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने कहा कि दीदी को गेट वेल सून कार्ड जल्द भेजेंगे।