पाक मंत्री ने पंजाबी सैनिको को देश के ख़िलाफ़ भड़काया ,कैप्टन अमरिंदर बोले सच्चे देशभक्त है जवान

New Delhi : कश्मीर मुद्दे पर भारत के खिलाफ लिये फैसले का कोई असर नहीं दिखने के बाद अब पाकिस्तान भारतीय सेना को भड़काने का काम कर रहा है। पाकिस्तान के केंद्रीय मंत्री फवाद चौधरी ने भारतीय सेना के पंजाबी सैनिकों से कश्मीर में ड्यूटी से करने से इनकार’ करने के लिए कहा है, ताकि वे इस अन्याय / ज़ुल्म का हिस्सा न बने।

संभवता ऐसा पहली बार है जब किसी देश के कैबिनेट मंत्री ने दूसरे देश के सशस्त्र बलों में विद्रोह को भड़काने की कोशिश की है। यह ट्वीट गुरुमुखी में पंजाबी भाषा और अंग्रेजी की लिपि में मंगलवार को पोस्ट किया गया था और भारत के अनुच्छेद 370 को रद्द करने के एक हफ्ते बाद आया था।

मंगलवार को पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी ने ट्विटर पर लिखा, “मैं भारतीय सेना में सभी पंजाबियों से अपील करता हूं कि वे अन्याय का हिस्सा बनने से इनकार करें और कश्मीर में ड्यूटी करने से इनकार करें।”

पाकिस्तानी मंत्री के इस ट्वीट के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी पर भारी पड़े और उन्हें भारत के आंतरिक मामले में दखल देने की चेतावनी दी। कैप्टन अमरिंदर ने कहा कि चौधरी की अपील भारतीय सेना पर काम नहीं करेगी क्योंकि भारतीय सैनिक अनुशासित और राष्ट्रवादी हैं।

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्विटर पर लिखा “भारत के आंतरिक मामले में हस्तक्षेप करने की कोशिश करना बंद करो। और मैं आपको बता दूं कि भारतीय सेना एक अनुशासित और राष्ट्रवादी ताकत है, जो फवाद चौधरी आपकी सेना से बिल्कुल विपरीत है। आपका भड़काऊ बयान काम नहीं करेगा और न ही हमारी सेना में सैनिक आपकी बात मानेगी”

जब से भारत ने धारा 370 को खत्म करने और जम्मू-कश्मीर के दो संघ शासित प्रदेशों में विभाजन की घोषणा की है, तब से पाकिस्तान पस्त है। इस कदम के लिए भारत को बार-बार नारेबाजी करते हुए, पाकिस्तान ने कश्मीर की स्थिति पर अंतर्राष्ट्रीय ध्यान देने की कोशिश की, लेकिन कोई समर्थन हासिल करने में विफल रहा।