झारखंड लिं’चिंग और हिं’सा की फैक्ट्री बन गई है : गुलाम नबी आजाद

New Delhi: राज्य सभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा है कि झारखंड लिं’चिंग और हिं’सा का फैक्ट्री बन गई है। हर हफ्ते वहां दलित और मुसलमान मा’रे जा रहे हैं। राज्यसभा में बोलते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के सबका साथ सबका विकास ’की लड़ाई में हम आपके साथ हैं लेकिन इन घटनाओं को कौन देखेगा । उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि गोडसे को देश भक्त बुलाने वालों पर अब तक कारवाई नहीं हुई। 2 अक्टूबर के पहले अब भी कारवाई करने का वक्त है।


मॉब लिं’चिंग को लेकर झारखंड पिछले कुछ सालों से सुर्ख़ियों में रहा है। झारखंड जनाधिकार मोर्चा की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ मौजूदा शासन में कम से कम 12 लोग यहाँ भीड़ द्वारा मा’रे गए। इनमें 10 मुसलमान हैं और 2 आदिवासी।

गौरतलब है कि झारखंड में कल एक व्यक्ति की चोरी करने के शक में उसकी पीट पीट कर हत्या कर दि गई थी। स्थानीय लोगों ने पहले उसे बहुत पी’टा और फिर अधम’री हालत में पुलिस के हवा’ले कर दिया था। रविवार को हुए इस वार’दात में पि’टाई के बाद युवक की हालत को देखते हुए पुलिस ने उसे टाटा मेन अस्पताल में रेफर कर दिया था जहां उसके मौ’त की पुष्टि हुई। मृ’तक की पहचान Tabrez के रूप में हुई है। कल सुबह उन्हें सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया और फिर जमशेदपुर के टाटा मेन अस्पताल में रेफर कर दिया गया था।
तबरेज के परिवार ने आ’रोप लगाया है कि हम’ला सांप्र’दायिक था और उसे ‘जय श्री राम’ और ‘जय हनुमान’ का जाप करने के लिए कहा गया था। एक अन्य रिश्तेदार ने पुलिस कि भूमिका पर सवाल खड़े करते हुए कहा था कि “हम उस समय ड्यूटी पर रहे पुलिस कर्मियों के खि’लाफ का’र्रवाई चाहते हैं’।