कुमुदिनी-रीति ने बढ़ाया देश का मान- इतिहास में पहली बार इंडियन नेवी की वॉरशिप पर तैनात होंगी

New Delhi : लड़कियों ने फिर देश का मान बढ़ाया है। दो युवा वीरों को नेवी ने वॉरशिप पर तैनात करने की घोषणा की गई है। यही नहीं राफेल लड़ाकू विमान को भी पहली महिला पायलट जल्द मिलनेवाली है। इंडियन नेवी इन दोनों वीर महिलाओं को जल्द ही हेलीकॉप्टर स्ट्रीम में ज्वाइन करायेगा। ऐसा इंडियन नेवी के इतिहास मे पहली बार होगी। यही नहीं राफकल लड़ाकू विमान को भी महिला पायलट देने का निर्णय ऐतिहासिक है। यह महिलाओं के सशक्तिकरण की दिशा में एक शानदार और अहम पहल है। अब देखना दिलचस्प होगा कि किसे राफेल के लिये चुना जाता है।

उल्लेखनीय है कि इंडियन आर्मी और खासतौर पर नेवी के इतिहास में पहली बार दो महिला अफसर सब लेफ्टिनेंट कुमुदिनी त्यागी और सब लेफ्टिनेंट रीति सिंह को वॉर शिप पर तैनात करने का निर्णय लिया गया है। इन दोनों महिला अफसरों को हेलीकॉप्टर स्ट्रीम में एयरबोर्न टैक्टिशियंस के पद में शामिल होने के लिये चुना गया है। सब लेफ्टिनेंट कुमुदिनी त्यागी और सब लेफ्टिनेंट रीति सिंह अफसर इंडियन नेवी के उन 17 अफसरों के ग्रुप का हिस्सा हैं, जिनमें चार महिला अफसर और तीन इंडियन कोस्ट गार्ड के अफसर शामिल हैं।
इन महिला अफसरों को शॉर्ट सर्विस कमीशन बैच के अफसर के तौर पर आईएनएस गरुड़ कोच्चि में सोमवार को आयोजित एक समारोह में “ऑब्जर्वर” के रूप में स्नातक होने पर “विंग्स” से सम्मानित किया गया। दूसरी तरफ इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि अंबाला में भारतीय वायुसेना के राफेल स्क्वॉड्रन को पहली महिला फाइटर पायलट जल्द मिल जायेगी। वर्तमान में चयन प्रक्रिया के तहत वायुसेना की 10 महिला फाइटर पायलट प्रशिक्षण से गुजर रही हैं। इनमें से एक 17 स्क्वाड्रन के साथ राफेल जेट उड़ायेंगी।

बताना मुनासिब होगा कि इसी माह 10 तारीख को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की मौजूदगी में फ्रांस से जुलाई में भारत लाये गये 5 राफेल लड‍़ाकू विमान को भारतीय वायुसेना में शामिल किया गया। भारत ने फ्रांस से 36 राफेल जेट खरीदे हैं। फिलहाल राफेल लड़ाकू विमान लद्दाख के एलएसी पर भी उड़ान भर रहे हैं और चीन की चुनौतियों का सामना करने के लिये तत्पर हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

+ 39 = forty six