जानिए क्या है ब्लू फॉर सूडान कैम्पेन जो सोशल मीडिया पर कर रहा है ट्रेंड

 New Delhi: अफ्रीका के एक देश सूडान में सोशल मीडिया पर ब्लू फॉर सूडान कैम्पेन चल रहा है। वहां के लोग सोशल मीडिया पर अपनी प्रोफाइल को चेंज कर रहे हैं और ब्लू कलर की फोटो लगा रहे हैं। इसके साथ ही एक हैशटैग का यूज कर रहे हैं, ब्लू फॉर सूडान। बता दें कि यह कैम्पेन एक एक्टिविस्ट मोहम्मद मत्तार के समर्थन में चल रहा है। लेकिन ब्लू कलर ही क्यों, और कोई क्यों नहीं क्योंकि मत्तार का फेवरेट कलर था, ब्लू इंडिगो।

मत्तार 3 जून को सुरक्षाबलों के ह’म’ले में दो महिलाओं की रक्षा करते हुए मा’रे गए थे। 11 जून से मत्तार को श्रध्दांजलि देने के लिए यह कैम्पेन शुरू हुआ।

सूडान में सुरक्षाबल ही क्यों बन रही है जान की दु’श्म’न

सूडान में निरंकुश राष्ट्रपति बशीर के शासन के खिलाफ लगभग चार महीनों से सड़कों पर वि’रो’ध प्रदर्शन चल रहे थे। महीनों से चले आ रहे वि’रो’ध प्रदर्शन के कारण बीते 30 साल से सत्ता पर काबिज रहे राष्ट्रपति उमर अल बशीर ने अपना पद छोड़ दिया था। बताया जा रहा है कि वहां की सेना ने ही सरकार का तख्ता पलट किया था। इसके बाद सत्ता पर वहां की सेना काबिज हो गई। लोग अब चाहते हैं कि सूडान में लोकतांत्रिक सरकार बनाई जाए लेकिन सेना का कहना है कि लोकतांत्रिक सरकार लाने के लिए वे तीन साल का समय लेंगे। लोग इससे खुश नहीं थे और इसके वि’रो’ध में प्रदर्शन करना शुरू कर दिया। इस दबाने के लिए वहां की सेना हिं’सा पर उतर आई है। सूडान की राजधानी में बहुत लोगों को मा’रा गया है और इंटरनेट भी डिसकनेक्ट कर दिया गया है जिससे लोग ग्रुप न बना पाए। इसके अलावा सूडान में भुखमरी का क’हर भी है। संयुक्त राष्ट्र एंजेसी की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि लगभग बीस लाख लोग भुखमरी के करीब हैं।