मंदिर गिराने के मामले में केजरीवाल का मायावती को जवाब..जमीन केंद्र सरकार की है, दुख मुझे भी है

New Delhi : दिल्ली के मुख्यमंत्री Arvind Kejriwal ने संत रविदास मंदिर को गि’राने वाले मा’मले में बसपा प्र’मुख Mayawati को ज’वाब दिया है। मायावती के ट्वीट पर उन्होंने क’मेंट करते हुए लिखा है कि “मायावती जी, मंदिर के गि’राए जाने से हम सब लोग बे’हद व्य’थित हैं। इसका स’ख़्त वि’रोध करते हैं। मुझे दुः’ख है कि आप कें’द्र के साथ इसके लिए हमें दो’षी मा’नती हैं। दिल्ली में “ज़’मीन” कें’द्र सरकार के अ’धीन आती है। हमारी सरकार का इस मंदिर के गि’राए जाने में कोई हा’थ नहीं।”

बता दें कि सु’प्रीम को’र्ट के आ’देश के बाद दिल्ली विकास प्रा’धिरकरण (DDA) ने तुगलकाबाद स्थि’त संत रविदास मंदिर को ढ’हा दिया था। इसी के चलते दलित समाज में ना’राजगी है। इस ना’राजगी का अ’सर ना सिर्फ दिल्ली बल्कि पंजाब में भी देखने को मिल रहा है। बुधवार को ही पंजाब में कई शहरों में दलित समाज ने पंजाब बं’द बुलाया था, जिसका अ’सर जालंधर, गुरदासपुर, होशियारपुर जैसे ब’ड़े शहरों में देखने को मिल रहा था। कई ज’गह इस घ’टना के वि’रोध में प्र’दर्शन भी हुआ, जहां पु’लिस को ह’वाई फा’यरिंग करनी पड़ी।

मंदिर तो’ड़े जाने से बसपा प्रमुख मायावती भी ना’राज हैं। उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट में लिखा कि “दिल्ली के तुगलकाबाद क्षेत्र में बना सन्त रविदास मन्दिर केन्द्र व दिल्ली सरकार की मिली-भगत से गि’रवाये जाने का बी.एस.पी. ने स’ख्त वि’रोध किया। इससे इनकी आज भी हमारे सन्तों के प्र’ति ही’न व जा’तिवादी मा’नसिकता सा’फ झ’लकती है।”