कांवड़ियों के लिए बनाया गया ‘कांवड़ यात्रा प्रबंधन ऐप’, पा सकेंगे हर सुविधा आसानी से

New Delhi : सावन का महीना लग चुका है। सभी कांवड़िए भोलेनाथ के दर्शन के लिए चल दिए हैं। कुछ कांवड़ियों ने दर्शन कर भी लिए हैं। एक अनुमान के मुताबिक इस बार कांवड़ियों की संख्या भी बहुत ज्यादा है। योगी ने कांवड़ यात्रा शुरू होने से पहले ही सारे इंतजाम करने के निर्देश दे दिए थे। लेकिन अभी भी कुछ समस्याएं हैं जो कांवड़ियों को रास्ते में आ सकती हैं इसलिए ‘कांवड़ यात्रा प्रबंधन ऐप’ (Kawad Yatra Management App ) को बनाया गया है। जो रास्ते में कांवड़ियों की सहायता करेगा।

कमिश्नर अनिता मेशरम ने बताया कि यह ऐप तीर्थयात्रियों को बहुत सहायता करेगा। इसके जरिए आप किसी भी स्थान पर पानी, शौचालय, अस्पताल और पुलिस हेल्पलाइन की सुविधा पा सकेंगे। यह ऐप आपके एंड्रायड में  उपलब्ध है। इस ऐप को मेरठ मंडल के स्तर पर बनाया गया है।

पिछले वर्ष भी ऐसा ही एप बनाया गया था। उस समय मेरठ जनपद में 4920 शिवभक्तों ने एप को डाउनलोड किया था। इसे गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। प्रशासन के दावों पर अमल हुआ तो कांवड़ियों को कहीं भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। घाटों तथा मार्ग पर सफाई, पानी, बिजली समेत अन्य सभी सुविधाएं होंगी। कांवड़ियों के मार्ग पर जगह-जगह डायल 100 और एंबुलेंस भी खड़ी रहेगी। यानी, किसी दु’र्घटना पर तत्काल राहत मिलेगी।

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने वीडियो कान्फ्रेंस के जरिये पुलिस अफसरों को सख्त निर्देश दिया था कि कांवड़ यात्रा को सही से निपटाने के लिए बकायदा खाका तैयार किया जाए। यह भी निर्णय लिया गया कि मेला परिसर में पुलिस वाले सादी वर्दी में लोगों के बीच मौजूद रहेंगे। वह 24 घंटे कांवड़ मार्गों पर गश्त करेंगे। सीएम ने कहा  था कि कांवड़ यात्रा के दौरान रास्ते में कोई भी बिना अनुमति लिए शिविर नहीं लगा सकेगा।

आ गया भोलेनाथ का महीना:कल से शुरू होगी कांवड़ यात्रा,मार्ग पर हर जगह मिलेगी डायल 100, एम्बुलेंस