कंगना बोलीं- सुशांत के बहाने अगर बॉलीवुड का गटर साफ हो रहा है तो इनको तकलीफ क्यों हो रही है?

New Delhi : बॉलीवुड के बादशाह शाहरूख खान, खिलाड़ी अक्षय कुमार, अजय देवगन, आमिर खान, सलमान खान, करण जौहर के प्रोडक्शन हाउस के अलावा बॉलीवुड से जुड़ी चार एसोसिएशन और अन्य 29 प्रोडक्शन हाउस ने रिपब्लिक न्यूज चैनल, टाइम्स नाऊ के खिलाफ धावा बोल दिया है। सबने दिल्ली हाईकोर्ट में एक याचिका डाल बॉलीवुड को उबारने, बचाने की गुहार लगाई है। शिकायत यह है कि न्यूज चैनल्स और सोशल मीडिया पर लगातार जानबूझकर बॉलीवुड को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है, जिससे पूरी इंडस्ट्री तबाह हो जायेगी।

इस न्यूज के साथ ही सोशल मीडिया पर #BollywoodStrikesBack, #BoycottBollywood भी ट्रेंड करने लगा है। क्वीन कंगना रनौत ने इस याचिका पर चुटकी ली है। कंगना ने ट‍्वीट किया- बॉलीवुड के गटर में रेंगने वालों अब पता चला कैसा लगता है जब सारे देश के सामने बेइज़्ज़त किया जाता है, निशाना बनाया जाता है,आइसलेट किया जाता है। क्यूँ कहीं छुप या भाग जाने का मन कर रहा है? तुम इतने सारे भेड़िए हो झुंड में?
कंगना ने कई ट‍्वीट किये हैं। कंगन ने लिखा- मैं कई सालों से बॉलीवुड में शोषण और बुलीइंग की शिकायत कर रही हूँ आज़ उसी कारण एक कलाकार की जान चली गई। अगर सुशांत के बहाने बॉलीवुड का गटर साफ़ हो रहा है तो इनको इतनी तकलीफ़ क्यूँ हो रही है। इसका भी सारा हिसाब है मेरे पास।
कंगना ने लिखा है- बॉलीवुड का एक अलिखित कानून है। वो यह है कि तू मेरी गंदगी को ढंक मैं तेरी गंदगी को ढंक दूंगा। यहां कुछ फैमिली का कब्जा है जो बाहर से आनेवाले लोगों को बेइज्जत करते हैं। यह कब बदलेगा? यही नहीं बड़े ए लिस्टर्स हर नई एक्ट्रेस को अपना शिकार बताते हैं। कंगना के ट‍्वीटस से ट‍्विटर का माहौल बहुत गर्म हो गया है।

याचिकाकर्ताओं में ये चार एसोसिएशन : द प्रोड्यूसर गिल्ड ऑफ़ इंडिया, द सिने एंड टीवी आर्टिस्ट्स एसोसिएशन, द फिल्म एंड टीवी प्रोड्यूसर्स काउंसिल और स्क्रीन-राइटर्स एसोसिएशन।
प्रोडक्शन कंपनी : यशराज फिल्म्स, धर्मा प्रोडक्शंस, आमिर खान प्रोडक्शंस, सलमान खान वेंचर्स, सोहेल खान प्रोडक्शंस, रोहित शेट्टी पिक्चर्स, रेड चिलीज एंटरटेनमेंट, रिलायंस बिग एंटरटेनमेंट, राकेश ओमप्रकाश मेहरा पिक्चर्स, नाडियाडवाला ग्रैंडसन एंटरटेनमेंट, कबीर खान फिल्म्स, अजय देवगन फिल्म्स, केप ऑफ गुड फिल्म्स, अरबाज खान प्रोडक्शंस, गोवारिकर प्रोडक्शंस, अनिल कपूर फिल्म एंड कम्युनिकेशन नेटवर्क, एक्सेल एंटरटेनमेंट, विनोद चोपड़ा फिल्म्स, विशाल भारद्वाज फिल्म्स, रॉय-कपूर प्रोडक्शंस, एड-लैब्स फिल्म्स, आंदोलन फिल्म्स, बीएसके नेटवर्क एंड एंटरटेनमेंट, क्लीन स्लेट फिल्म्स, एमी एंटरटेनमेंट एंड मोशन पिक्चर्स, फिल्म-क्राफ्ट प्रोडक्शंस, होप प्रोडक्शंस, लव फिल्म्स, मैकगुफिन पिक्चर्स, वन इंडिया स्टोरीज, आर एस एंटरटेनमेंट, रियल लाइफ प्रोडक्शंस, सिखया एंटरटेनमेंट, टाइगर बेबी डिजिटल।
ऐसा पहली बार है जब ये सारे बड़े स्टार्स एक ही प्लैटफॉर्म पर आ गये हैं। ऐसा पहले कभी नहीं हुआ तो ऐसे में इन प्रोडक्शन हाउसों की परेशानी को आसानी से महसूस किया जा सकता है। यह भी समझा जा सकता है कि इन लोगों ने अपने आपको ही पूरी इंडस्ट्री मान लिया है। शायद इसलिये कि बॉलीवुड में इन पर ही करोड़ों अरबों का दांव लगाया जाता है और सुशांत प्रकरण के बाद लोगों में इनको लेकर काफी गुस्सा है। इसका सीधा असर इनके बिजनेस पर भी दिखने लगा है। ऐसे में बॉलीवुड क्वीन कंगना रनौत के आरोपों में भी दम महसूस होने लगा है कि बॉलीवुड में माफियागिरी चरम पर है।

इस याचिका में रिपब्लिक चैनल के अर्नब गोस्वामी, प्रदीप भंडारी, टाइम्स नाऊ के राहुल शिवशंकर और नाविका कुमार के अलावा अन्य मीडिया हाउस व सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म पर बॉलीवुड को बदनाम करने की साजिशों पर रोक लगाने की डिमांड की गई है। बता दें कि सुशांत प्रकरण में मीडिया हाउसों ने बॉलीवुड में मूवी माफिया और नेपोकिड‍्स के खिलाफ अभियान छेड़ा। सबको पर्दाफाश किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− one = three