Jet Airways के 16,000 वेतन कर्मचारियों को महीनों से नहीं मिला हैं वेतन, पायलट,इंजनीयरों ने किया हंगामा

 New Delhi – एयरलाइन के एक सूत्र ने बुधवार को कहा कि जेट एयरवेज़ प्रबंधन अपने पायलटों और इंजीनियरों के वेतन के साथ ही साथ अन्य श्रेणियों के कर्मचारियों के सितंबर माह के वेतन को देने में लापरवाही कर रही है ।

मुंबई स्थित पूर्ण सेवा वाली एयरलाइन के कुछ आंशिक भाग में कंपनी को परेशानी हो रही है जो संयुक्त अरब अमीरात के राष्ट्रीय वाहक एतिहाद एयरवेज ने अधिग्रहण किया है । इसका मुख्य कारण फाइनेंशियल इश्यू बताया जा रहा है । पिछले कुछ दिनों से यह भी खबर आ रही थी कि जेट एयरवेज़ बहुत कर्जे में है और आर्थिक समस्या होने के कारण अब उसकी उड़ान बाधित हो सकती है । नरेश गोयल का कहना है कि – एयरलाइन अपने पेमेंट के लेकर खुद ही बहुत चिंतित है और समस्या दूर करने के लिए निरंतर प्रयास भी कर रही है । जानकारी के लिए आपको बता दें कि एयरलाइन को अपने 16,000 से अधिक श्रमिकों के वेतन अभी देने बाकी है जिसमें कंपनी के हर एक वर्ग के कर्मचारी शामिल हैं ।

उन्होंने कहा कि सबसे पहले हम अपने कर्मचारियों के वेतन का ही भुगतान करते है लेकिन इस बार हमें अपने पायलटों और इंजीनियरों के वेतन भुगतान में समस्या हो रही है क्योंकि हमारे पास उतना बजट ही नहीं है कि हम सबका एक साथ भुगतान कर सकें । सूत्रों के मुताबिक ए 1-ए5 , ओ1 और ओ2 ग्रेड में कर्मचारी के वेतन का भुगतान किया जा चुका है जबकि उनके वेतन 75,000 रुपये प्रति माह तक है लेकिन एम1 , एम2 , ई1 और उपरोक्त ग्रेड के बाकी कर्मचारियों के वेतन का भुगतान करने में कंपनी असमर्थ हो गई है पर बहुत ही जल्द शेष बचे कर्मचारियों के वेतन का भुगतान भी हो जाएगा । पूर्ण सेवा एयरलाइन ने वरिष्ठ कर्मचारियों को सूचित किया कि नवंबर तक उनके वेतन का भुगतान दो किश्तों में कर दिया जाएगा ।