जय हो : भारतीय मूल की डॉ उमा को अमेरिका में मिला ‘ड्राइव ऑफ आनर’

New Delhi : कोरोना आपदा से जंग में डॉक्टर फ्रंट पर आकर लड़ाई को अंजाम दे रहे हैं। ऐसे में लॉकडाउन के दौरान अपने अपने घरों में बंद लोग अलग-अलग जगहों पर अपने-अपने तरीके से डॉक्टरों और हेल्थ स्टाफ आभार जता रहे हैं। फिलहाल कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित अमेरिका में लोगों ने एक भारतीय मूल की डॉक्टर को विशेष सम्मान दिया है। भारत के मैसूर की रहने वाली डॉ उमा मधुसूदन द्वारा कई कोरोना मरीजों का इलाज करने और उन्हें ठीक करने के बाद वहां के लोगों ने उन्हें ‘ड्राइव ऑफ आनर’ से सम्मानित किया है।

इससे जुड़ा एक वीडियो वायरल हो रहा है। सोशल मीडिया पर इस वीडियो को कई बड़ी हस्तियों ने शेयर किया है और यह लगातार वायरल हो रहा है। ट्विटर पर बॉलीवुड एक्टर आदिल हुसैन ने भी अपने अकाउंट से इस वीडियो को शेयर किया जिसे हजारों लोगों ने रिट्वीट किया है।1990 में जेएसएस मेडिकल कॉलेज से अपनी पढ़ाई पूरी करने वाली डॉ उमा इस वक्त अमेरिका के कनेक्टिकट स्थित दक्षिणी विंडसर अस्पताल में अपनी सेवाएं दे रही हैं।
उनके द्वारा कई मरीजों का सफलतापूर्वक इलाज करने पर वहां के स्थानीय लोग पुलिस और फायरमैन के साथ मिलकर सैकड़ों गाड़ियों के काफिले के साथ उनके घर के सामने से निकले और उनका धन्यवाद दिया और आभार जताया। वीडियो में डॉ उमा अपने घर के बाहर खड़ी हैं और उनके सामने सड़क से लगातार एक के बाद एक सैकड़ों गाड़ियां निकल रही हैं। गाड़ियों में बैठे लोग धन्यवाद लिखे पोस्टर, बैनर के साथ आगे बढ़ते जा रहे हैं, वहीं खुद उमा भी हाथ हिलाकर और हाथ जोड़कर सभी का अभिवादन स्वीकार कर रही हैं।

इससे पहले इटली और भारत में भी लोगों ने अपने-अपने घरों से ताली, थाली और घंटियां बजाकर डॉक्टर्स का आभार जताया है, हालांकि देश में कुछ जगहों पर स्वास्थ्यकर्मियों के साथ बदसलूकी की भी कई खबरें आई हैं। वहीं बुधवार को भारत सरकार ने इस दिशा में डॉक्टरों से बदतमीजी रोकने के लिए एक नया अध्यादेश भी पास कर दिया है जिसमें सख्त प्रावधान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− one = 4