बहिन जी कांग्रेस से हाथ न मिलाकर भाजपा की मदद इसलिए नहीं की थीं कि जमीन जब्त हो जाए: प्रमोद

New Delhi: आज यानी गुरुवार को आयकर विभाग ने मायावती के भाई आनंद कुमार और उनकी पत्‍नी की 400 करोड़ रुपये की कीमत की बेनामी सात एकड़ जमीन जब्‍त की है। सातों एकड़ जमीन कमर्शियल प्लॉट है। इस पर कांग्रेस के नेता आचार्य प्रमोद ने तंज कसा है। प्रमोद ने एक ट्वीट में लिखा है कि – बहिन जी ने कांग्रेस को गठबंधन से दूर रख कर भाजपा की मदद इसलिये नहीं की थी, कि कड़ी मेहनत से कमायी हुई उनकी 400 करोड़ की सम्पत्ति ज़ब्त कर ली जाये।

 

बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती के भाई पर आयकर विभाग ने कार्रवाई की है। मायावती के भाई आनंद कुमार पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हैं। आयकर विभाग ने आनंद कुमार और उनकी पत्‍नी की 400 करोड़ रुपये की कीमत की बेनामी सात एकड़ जमीन जब्‍त की है। सातों एकड़ जमीन कमर्शियल प्लॉट है।

आयकर विभाग नई दिल्ली और नोएडा में उच्च मूल्य संपत्तियों के बारे में उनके खिलाफ एक मामले की जांच कर रहा है। दोनों पति-पत्नी पर कंपनियों में निवेश करने का भी मामला है। आयकर विभाग के दिल्‍ली स्थित बेनामी प्रतिषेध यूनिट (बीपीयू) ने इस संबंध में 16 जुलाई को आदेश जारी किया था। यह आदेश बेनामी संपत्ति ट्रांजैक्‍शन प्रतिषेध एक्‍ट, 1988 के सेक्‍शन 24 (3) के तहत जारी किया गया था।

बेनामी सम्पति पर आयकर विभाग ने 2017 आनंद से पूछताछ की थी। आनंद कुमार ने दिल्ली के व्यवसायी एसके जैन के सहयोग से कई हजार करोड़ की बेनामी संपत्ती जुटाई थी। आनंद कुमार ने वर्ष 2007 से लेकर साल 2012 तक बेनामी संपत्ति बनाई थी। यह वही दौर था जब मायावती उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री थीं।