IPL Grand Finale : कौन जीतेगा जंग, किसका पलड़ा रहेगा भारी

New Delhi : IPL 2019 का खिताबी महामुकाबला शुरू होने में चंद घंटे रह गए हैं. दोनों टीमें इस जंग के लिए तैयार हैं। ऐसे में देखना होगा कि इस लड़ाई में किसका पलड़ा भारी रहेगा।

Mi vs Csk

पॉइंट्स टेबल में सबसे शीर्ष पर रहने वाली Mumbai की टीम ने प्ले-ऑफ राउंड में चेन्नई की टीम को 6 विकेट से हराकर सीधे फाइनल में प्रवेश किया था। वहीं पॉइंट्स टेबल में दूसरे स्थान पर रहने वाली Chennai की टीम ने “करो या मरो” के मुक़ाबले में दिल्ली कैपिटल्स को हराकर फाइनल में प्रवेश किया। आईपीएल के इस सीजन में मुंबई और चेन्नई की टीम 3 बार भिड़ी है, जिसमें तीनों बार मुंबई ने जीत हासिल की है। इस हिसाब से मुंबई का पलड़ा भारी लग रहा है लेकिन चेन्नई को कमतर नहीं आंकना होगा।

 सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि आईपीएल के फाइनल में Mumbai-Chennai की टीम आपस में 3 बार भिड़ चुकी है, जिसमें 2 बार मुंबई और 1 बार चेन्नई विजयी रही। चेन्नई ने अब तक कुल 7 बार आईपीएल का फाइनल खेला है, जिसमें उसने 3 बार खिताबी जीत हासिल की है और 4 बार रनर-अप रही है। वहीँ 4 बार आईपीएल के फाइनल में पहुँचने वाली मुंबई की टीम ने 3 बार खिताब पर कब्ज़ा किया है, जबकि एक बार रनर-अप रही है।

इस आईपीएल सीजन में लीग मैच में मुंबई का प्रदर्शन बहुत ही बेहतरीन रहा और उसने 14 मैचों में 9 में जीत हासिल की। चेन्नई की टीम भी लीग में इतने ही मैचों में विजयी रही और शानदार प्रदर्शन किया। मुंबई की टीम में कप्तान रोहित शर्मा, ईशान किशन, सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पंड्या, क्रुणाल पंड्या, कीरोन पोलार्ड जैसे बल्लेबाज हैं जो अभी शानदार फॉर्म में हैं। सूर्यकुमार यादव ने प्ले-ऑफ में चेन्नई के खिलाफ अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी से मुंबई को जीत दिलाई थी. फाइनल में भी मुंबई को उनसे बहुत उम्मीदें रहेंगी। गेंदबाजी की बात करें तो जसप्रीत बुमराह, लासिथ मलिंगा अभी शानदार लय में चल रहे हैं, जो चेन्नई के लिए परेशानी का सबब हैं।

चेन्नई की टीम में दोनों सलामी बल्लेबाज शेन वॉटसन और फाफ डु प्लेसिस, कप्तान महेंद्र सिंह धोनी, सुरेश रैना, ड्वेन ब्रावो जैसे बल्लेबाज हैं जो अपना ताबड़तोड़ प्रदर्शन कर रहे हैं। धोनी ने इस आईपीएल सीजन में गेंदबाजों की बखिया उधेड़ दी है जो मुंबई के लिए चिंता का विषय है। चेन्नई के लिए बड़ी खुशखबरी उनके दोनों सलामी बल्लेबाज का फॉर्म में आना है, दोनों ने प्ले-ऑफ में दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ अर्धशतक लगाया और चेन्नई के जीत की नींव रखी। गेंदबाजी में इमरान ताहिर, हरभजन सिंह, दीपक चाहर और रविंद्र जडेजा जबर्दस्त लय में हैं, हरभजन सिंह ने कल ही आईपीएल में 150 विकेट पूरा किया है। चेन्नई के लिए सबसे मजबूत पक्ष इमरान ताहिर की खतरनाक गेंदबाजी है। इस अफ़्रीकी बॉलर ने इस सीजन में अभी तक 24 विकेट लिए हैं और पर्पल कैप की रेस में आगे चल रहे हैं। फाइनल में अपनी फिरकी से ये कुछ भी कर सकते हैं।

दोनों टीमें इस प्रकार हैं :
मुंबई इंडियंस : रोहित शर्मा (कप्तान), सूर्यकुमार यादव, ईशान किशन, हार्दिक पंड्या, क्रुणाल पंड्या, कीरोन पोलार्ड, राहुल चाहर, जसप्रीत बुमराह, लासिथ मलिंगा, क्विंटन डी कॉक, एल्विन लुइस, अल्जारी जोसेफ।

चेन्नई सुपर किंग्स : महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), शेन वॉटसन, फाफ डु प्लेसिस, सुरेश रैना, केदार जाधव, रविंद्र जडेजा, दीपक चाहर, इमरान ताहिर, ड्वेन ब्रावो, हरभजन सिंह, कर्ण शर्मा, मोहित शर्मा, अंबाती रायुडू।