PM Modi की पहल : 2 महीने में बनेगा 30,000 वेंटिलेटर, DRDO हर रोज तैयार करेगा 20,000 मास्क

New Delhi : Corona Virus के खतरे को देखते हुए ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स को वेन्टीलेटर्स तैयार करने को कहा गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने भारत इलेक्ट्रॉनिक लिमिटेड (BEL) को अगले दो महीनों में लोकल मैन्युफैक्चरर्स के साथ मिलकर 30 हजार वेंटीलेटर बनाने के लिए कहा गया है। मौजूदा समय में देश के अलग-अलग अस्पतालों में 14 हजार से ज्यादा वेन्टीलेटर्स कोरोनावायरस के मरीजों के लिए उपलब्ध हैं। नोएडा के Agva healthcare को एक महीने में 10 हजार वेंटिलेटर बनाने हैं। अप्रैल के दुसरे हफ्ते से इनके वेन्टीलेटर्स की सप्लाई शुरू हो जाएगी।
एक रिपोर्ट के मुताबिक Defence Research and Development Organisation (DRDO) अगले हफ्ते से हर दिन 20 हजार N99 मास्क बनाएगा। अभी देशभर के अस्पतालों में लगभग 12 लाख N95 मॉस्क स्टॉक में हैं। दो घरेलू मैन्युफैक्चरर्स हर दिन 50 हजार N95 मास्क बना रहे हैं अगले हफ्ते तक ये हर दिन एक लाख बनाये जाएंगे। रेड क्रॉस ने आज 10 हजार पीपीई यानी पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट डोनेट किया है। 20 लाख पीपीई के लिए साउथ कोरिया की एक फर्म को ऑर्डर दिया गया है। ये अगले दस दिन में सप्लाई शुरू करेगी और अगले हफ्ते ये फर्म हर दिन एक लाख पीपीई बनाएगी।
10 लाख PPE KIT के लिए सिंगापुर की एक फर्म को ऑर्डर दिया गया है। अभी फ़िलहाल देशभर के अलग अलग अस्पतालों में 3 लाख 34 हजार PPE हैं। 4 अप्रैल तक 3 लाख और PPE उपलब्ध होंगे। 12 अलग-अलग घरेलू कम्पनियों को 26 लाख PPE का आर्डर दिया जा चुका है। फिलहाल वो हर दिन 6 से 7 हजार बना रहे हैं जो 15 अप्रैल तक हर दिन 15 हजार हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

+ 32 = thirty nine