पाक की एक और कोशिश नाकाम— राजस्थान में सुरक्षा बलों ने पाकिस्तानी जासूस को धर दबोचा

New Delhi: पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से कभी बाज नहीं आता। वो कोई ना कोई ऐसा काम करता रहता है जिससे वो भारत में तनाव के हालात पैदा कर सके लेकिन भारत के जवान हर बार उसकी इस कोशिश को नाकाम कर देते हैं। इस बार सुरक्षा एजेंसियों ने राजस्थान के बाड़मेर से एक पाकिस्तानी जासूस को गिरफ्तार किया है। वह पाकिस्तानी सेना की मदद से बाड़मेर के पास का बोर्डर पार कर गया था, उसे भारतीय सेना और सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) की गतिविधियों की जानकारी इकट्ठा करने का काम सौंपा गया था।

इस जासूस की पहचान किशोर के रूप में की गई अब पूछताछ के लिए उसे जयपुर ले जाया जा रहा है। किशोर ने कथित तौर पर बैरिकेड्स के नीचे से रेंग कर बोर्डर को पार किया है। बाद में उसे गांव वालों ने पकड़ लिया और सुरक्षा बलों को सौंप दिया। पूछताछ करने पर किशोर ने बताया कि कि उसे उसके मामा ने बीएसएफ और भारतीय सेना की गतिविधियों की जानकारी इकट्ठा करने के लिए भारत भेजा था।

पाकिस्तानी जासूस ने ये भी बताया कि उसे ट्रेन से पाकिस्तान के खोखरापार शहर से लाया गया था। खोखरापार से पाकिस्तानी सेना ने सीमा पार करने में उसकी मदद की। तीन दिनों तक उससे पूछताछ की गई लेकिन अब उसे पूछताछ के लिए जयपुर भेजा जा रहा है क्योंकि वह बार—बार अपने बयानों को बदल रहा है।

पाकिस्तानी इतने शातिर हैं कि उन्होंने किशोर को हरे कपड़ों में भेजा गया ताकि सुरक्षा बल जंगलों में उसकी गतिविधियों का पता नहीं लगा सके। इससे पहले सितंबर में दो पाकिस्तानी नागरिक जिन्हें कश्मीर में प्रवेश करने की कोशिश करते हुए पकड़ा गया था, ने पूछताछ में खुलासा किया कि 50 से अधिक लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) आतंकवादी भारत में घुसने का इंतजार कर रहे हैं।

उन्होंने यह भी खुलासा किया कि आ’तंकवादी पाकिस्तानी सेना और इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) की मदद से भारत में घुसपैठ करने का इंतजार कर रहा है। सूत्रों से इस बात की भी जानकारी मिली कि पाकिस्तानी सेना और आईएसआई ने नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पार एक दर्जन से अधिक लॉन्चिंग पैड सक्रिय कर दिए हैं।