पाक की नापाक हरकत, POK के शारदा पीठ में पूजा करने पहुंचे भारतीय दंपती को दर्शन करने से रोका

New Delhi: पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में स्थित शारदा पीठ में स्थित शारदा मां के दर्शन करने पहुंचे एक भारतीय दंपत्ती को पाकिस्तानी अधिकारियों ने दर्शन नहीं करने दिए। मजबूरन उन्हें निराश होकर वापस लौटना पड़ा। बाद में हांगकांग के इस भारतीय जोड़े ने एक वीडियो जारी कर इसकी जानकारी दी।

पी. टी. वेंकटरमण और सुजाता नाम के इस दंपति को हालांकि, धर्मस्थल से 100 किलोमीटर दूर एक नदी के किनारे देवताओं को श्रद्धा अर्पित करने की अनुमति दी गई थी। जो कि मंदिर से बेहद दूर है।

एक वीडियो में, वेंकटरमन ने कहा, “हम 30 सितंबर को मुजफ्फराबाद में शारदा देवी के दर्शन के लिए पहुंचे थे। हम अधिकारियों से हमें अनापत्ति प्रमाणपत्र देने का इंतजार कर रहे थे, लेकिन दुर्भाग्य से, उन्होंने इसे मंजूर नहीं किया। उन्होंने हमें मंदिर में दर्शन करने की अनुमति दी। जिसके बाद हमने मंदिर से 100 किमी दूर नीलम नदी के किनारे पूजा की जिसकी अनुमति हमें दी गई थी। ”

एक आधिकारिक बयान में, दंपति ने कहा कि पीओके में 72 साल बाद इस तरह की पेशकश की गई थी। दंपति ने एक वैध वीजा पर घाटी की यात्रा की थी, जहां पवित्र धर्मस्थल स्थित है। वेंकटरमन ने कहा कि उन्होंने देवी शारदा और स्वामी नंद लाल जी की तस्वीर को अपने साथ ले गए और नदी के किनारे उनकी पूजा की।

उन्होंने यात्रा के दौरान देखा कि काफी संख्या में लोग नियंत्रण रेखा (एलओसी)  पर धारा 370 के हटाने के विरोध में प्रदर्शन कर रहे थे। आधिकारिक बयान में कहा गया, “पूजा करने के बाद, उन्होंने एलओसी में तनाव शांत होने के बाद शारदा पीठ में स्थापित करने के लिए पीओके के नागरिक समाज के सदस्यों को तस्वीरें सौंपीं ।”