सतर्क रहे पाक,संयुक्त काउंटर आतंकवादी अभियानों के लिए अभ्यास कर रहे हैं भारतीय-अमेरिकी सैनिक

NEW DELHI: भारतीय सेना और अमेरिकी सेना वाशिंगटन में संयुक्त सैन्य अभ्यास कर रहे हैं। संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास का मुख्य उद्देश्य एक समझ और अंतर को विकसित करना है। 5-18 सितंबर तक चलने वाले इस अभ्यास के दौरान भारतीय और अमेरिकी सैनिक आतंकवादी अभियानों के लिए अभ्यास कर रहे हैं।

सेना उनके ड्रिल के हिस्से के रूप में संयुक्त काउंटर आतंकवादी अभियानों के लिए अभ्यास कर रही है।

मोदी के जन्मदिन पर पीएम ओली ने दी बधाई,कहा-‘हम मिलकर द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत करते जाएंगे’

कुछ दिनों पहले ही दोनों देशों की सेना साथ में एक हिंदी मार्च गीत पर कदमताल करती नजर आई। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

जॉइंट बेस लुईस-मैककॉर्ड में आयोजित संयुक्त सैन्य अभ्यास के दौरान भारतीय और अमेरिकी सैनिकों ने असम रेजिमेंट के मार्चिंग गीत ‘बदलुराम का बदन ज़मीन के नीचे है ’ पर एक साथ नाचा-गाया।

प्रशिक्षण का आयोजन जॉइंट बेस लुईस-मैककॉर्ड में किया जाता है। चल रहे भारत-अमेरिका रक्षा सहयोग के हिस्से के रूप में, यह 5 से 18 सितंबर तक आयोजित किया जा रहा है। ये युद्ध अभ्यास भारत और अमेरिका के बीच रक्षा निगम के प्रयासों में सबसे बड़ा अभ्यास है। यह संयुक्त अभ्यास का 15 वां संस्करण है, जिसे दोनों देशों के बीच वैकल्पिक रूप से होस्ट किया जाता है।

अभ्यास के 14 वें संस्करण में युद्ध अभ्यास 2018 की मेजबानी भारत द्वारा उत्तराखंड में की गई थी।