देश के लिए कुर्बान हुए शहीदों के गांव में हर आंख हुई नम,लोग बोले-हमारा सिर गर्व से ऊंचा कर दिया 

देश के लिए कुर्बान हुए शहीदों के गांव में हर आंख हुई नम,लोग बोले-हमारा सिर गर्व से ऊंचा कर दिया 

By: Madhu Sagar
February 06, 08:33
0
New Delhi: रविवार को पुंछ सेक्टर में पाकिस्तानी सेना से संघर्ष विराम का उल्लंघन किया था। इस गोलाबारी में चार जवान घायल हो गया जबकि एक जवान शहीद हो गया।

शहीदों में जम्मू कश्मीर लाइन इनफैंट्री के एक अधिकारी और तीन जवान हैं। रातभर सीमा पार से पुंछ के दिवार और बालाकोट में और राजौरी के बिंबर गली में फायरिंग होती रही।

पढ़े- अक्षय कुमार की फिल्म 'गोल्ड' का टीजर हुआ रिलीज, दमदार लुक में नजर आए अक्की


शहीद हुए सैनिकों में कैप्टन कपिल कुंडू, राइफलमैन शुभम कुमार, राइफलमैन रामअवतार और हवलदार रोशन लाल हैं। बताया जा रहा है कि कैप्टन कपिल कुंडू गुरुग्राम के पटौदी के रहने वाले थे, जबकि रामअवतार ग्वालियर की बरावा गांव, शुभम सिंग जम्मू और कश्मीर के कठुआ और  हवलदार रोशन लाल घगवाल के रहने वाले थे। 

पढ़े- लालू से जेल में मिले बागी नेता शरद यादव तो भड़के मोदी,पूछा- कहां का शिष्टाचार है?

जब जवानों के घर में उनके शहीद होने की खबर पहुंची तो पूरे गांव में मातम पसर गया। मीडिया से बात करते हुए शहीद रोशन लाल के बेटे अभिनंदन ने कहा कि मुझे और मेरे पूरे गांव को इस बात पर गर्व है कि पिता देश के लिए समर्पित हुए। उनकी शहादत ने हमारा सिर पूरे गांव में ऊंचा उठा दिया।


जम्मू-कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती ने गोलीबारी में शहीद भारतीय सैनिकों की मौत पर दुख जताया है। आपको बता दें कि इस साल इस सेक्टर में हुए संघर्षविराम उल्लंघन में अब तक नौ जवानों समेत 17 लोगों की मौत हुई है और 70 लोग घायल हो चुके हैं।

पाकिस्तानी सेना की ओर से पुंछ सेक्टर के शाहपुर और भिंबर गली में रविवार सुबह से गोलीबारी की जा रही है। चार जवानों के शहीद और एक जवान के घायल होने के अलावा दो बच्चे भी इस गोलीबारी का निशाना बन गए।

जम्मू के पुंछ सेक्टर में रविवार सुबह करीब 11 बजे से हुई गोलीबारी शाम तक भी जारी थी। यह गोलीबारी पुंछ सेक्टर के शाहपुर इलाके में हुई। वहीं, पुंछ के ही बिंबर गली में हुए सीजफायर में सेना के चार जवान शहीद हो गए।

पढ़े- अभी-अभी: मालदीव में और गहराया संकट,SC के चीफ जस्टिस अब्दुल्ला सईद और जज अली हमीद भी गिरफ्तार


बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी सेना की ओर से नागरिक इलाकों को निशाना बनाकर गोलीबारी की गई थी। इससे पहले, 30 जनवरी को भी पाकिस्तानी सैनिकों ने जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर में भारतीय चौकियों पर गोलीबारी कर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया था। तब पाक सैनिकों ने भारतीय चौकियों को निशाना बनाया जिसका भारतीय जवानों ने मुंहतोड़ जवाब दिया।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।