IIT Bombay ने दुनिया के सर्वश्रेष्ठ शिक्षण संस्थानों की सूची में 152वां रैंक किया हासिल

New Delhi: दुनिया भर में देश के इंजिनियरिंग शिक्षण संस्थान अपना लोहा मनवा रहे हैं। वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग-2020 की जारी रिपोर्ट में देश में आईआईटी बॉम्बे को शीर्ष स्थान मिला है। वहीं दूसरी ओर इसने दुनिया के सर्वश्रेष्ठ शिक्षण संस्थानों की सूची में 152वां रैंक हासिल किया है। 2019 वाली रिपोर्ट में इस संस्थान को 162वें रैंक मिली थी। इसकी रैंकिंग में दस पायदान का इजाफा हुआ है।

दूसरे आईआईटी जैसे दिल्ली, बंगलुरू, मद्रास और खड़गपुर दूसरे, तीसरे, चौथे और पांचवे पायदान पर काबिज हैं। आईआईटी दिल्ली, कानपूर और रूड़की की रैंकिंग में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है। इंजिनियरिंग संस्थान आईआईएससी बंगलुरू की बात करें तो यह संस्थान शोध कार्य में दुनिया भर की रैंकिंग में दूसरे पायदान पर है लेकिन इस रैंकिंग में लगातार नीचे की ओर खिसकते ही जा रहा है।

भारत के 23 संस्थानों को इस रैंकिंग में जगह मिली है। टॉप 500 की दौड़ में अन्य छह संस्थान शामिल हैं। 2020 रैंकिंग में एमआईटी पहले, स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी दूसरे और हावर्ड यूनिवर्सिटी तीसरे स्थान पर है। इंजिनियरिंग शिक्षण संस्थानों को छोड़ दें तो देश के अन्य शिक्षण संस्थानों का हाल काफी बुरा है।

भारत की रैंकिंग में नंबर वन जेएनयू इस रैंकिंग से ही बाहर है। दिल्ली विश्वविद्यालय रैंकिंग में 13 पायदान का सुधार कर 474 पर काबिज है। जामिया मिल्लिया इस्लामिया, ओपी जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी की रैंकिंग 751-800 के बीच है। इस बार की रैंकिंग में सबसे दिलचस्प सऊदी अरब का हाल है। पहली बार सऊदी अरब की किंग अब्दूल अजीज यूनिवर्सिटी टॉप दो में शामिल है। चीन के 19 संस्थान टॉप 200 में जगह बनाने में कामयाब रहे हैं। हर साल जारी होती इस रैंकिंग में भारत की शिक्षा पद्धति की तस्वीर दुनिया के सामने साफ हो जाती है। इस रिपोर्ट की समीक्षा कर शिक्षा व्यवस्था में हर दिन हो रहे बदलाव का असर किस प्रकार हो रहा है, यह देखा जा रहा है।