ज्यादा समाजसेवा कर सकें, इसलिए गेट्स ने माइक्रोसॉफ़्ट के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स का पद छोड़ा

New Delhi : Microsoft के Founder Bill Gates ने बोर्ड ऑफ डायरेक्टर पद से इस्तीफा दे दिया है। हालांकि, वे माइक्रोसॉफ्ट केसीईओ सत्या नडेला के साथ बतौर Technical Advisor काम करते रहेंगे। यह जानकारी कंपनी ने शुक्रवार देर रात को दी। इसकेमुताबिक, दुनिया के दूसरे सबसे अमीर बिल गेट्स अब वैश्विक स्तर पर सामाजिक काम करना चाहते हैं। वे स्वास्थ्य, शिक्षा औरजलवायु परिवर्तन पर काम करेंगे।

इस्तीफे के बाद गेट्स ने कहामाइक्रोसॉफ्ट हमेशा मेरे जीवन का अहम हिस्सा रहेगा। मुझे दोनों कंपनियों पर गर्व है। आगे कीचुनौतियों के लिए भी सकारात्मक तौर पर तैयार हूं।

गेट्स ने 1975 में पॉल एलन के साथ मिलकर यह कंपनी बनाई थी। वे साल 2000 तक कंपनी के सीईओ रहे थे। 2008 में उन्होंनेजनकल्याण के लिए संस्था बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की स्थापना की थी। उन्होंने 2018 में संस्था को करीब 355 करोड़ रुपएदान दिए थे। गेट्स 2014 से माइक्रोसॉफ्ट में बोर्ड ऑफ डायरेक्टर पद पर कार्यरत थे।

नडेला ने कहा, ‘‘बिल गेट्स के साथ काम करना गौरव की बात है। उन्होंने सॉफ्टवेयर के जरिए लोगों को सहूलियत देने के उद्देश्य सेकंपनी की स्थापना की थी। माइक्रोसॉफ्ट इसी लक्ष्य के साथ काम करता रहेगा। गेट्स की सलाह का फायदा आगे भी कंपनी उठातीरहेगी और उनकी तकनीकी सलाह भी मिलती रहेगी। मैं बिल की मित्रता के लिए आभारी हूं और आगे भी लोगों की भलाई के लिए उनकेसाथ काम करना चाहूंगा।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

+ twelve = twenty one