इगोर स्टिमाक बने भारतीय फुटबॉल टीम के मुख्य कोच

New Delhi: इगोर स्टिमाक को भारतीय फुटबॉल टीम का कोच बनाया गया है। Igor Stimac का एआईएफए के साथ दो वर्षों का अनुबंध हुआ है। स्टिमाक क्रोएशिया की विश्वकप टीम के सदस्य और पूर्व मैनेजर रह चुके हैं।

क्रोएशिया टीम के सदस्य और पूर्व मैनेजर रह चुके Igor Stimac अब नई जिम्मेदारी संभालेंगे। स्टिमाक अब भारतीय फुटबॉल टीम के कोच नए कोच होंगे। स्टीफेन कॉन्सटेन्टाइन के जाने के बाद इगोर स्टिमाक को यह जिम्मेदारी दी गई है। इगोर स्टिमाक अगले 2 वर्षों तक टीम के कोच रहेंगे।

इगोर स्टिमाक का करियरः

Igor Stimac के पास क्रोएशिया की टीम को प्रशिक्षत करने के साथ-साथ टीम के विकास का 18 वर्षों का अनुभव है। क्रोएशिया की टीम ने इगोर स्टिमाक के प्रशिक्षण में ही फीफा विश्वकप 2014 में प्रवेश किया था। 1998 में फ्रांस में हुए फीफा विश्वकप में क्रोएशिया ने तीसरा स्थान हासिल किया था, इगोर इसी टीम का एक हिस्सा थे। 1996 में हुए UEFA यूरोपियन चैंपियनशिप में राष्ट्रीय टीम का हिस्सा थे जिसने टूर्नामेंट के क्वार्टरफाइनल में प्रवेश किया था। स्टिमाक युगोस्लावा अंडर-19 राष्ट्रीय टीम में शामिल थे जिसने 1987 में अंडर-20 फीफा विश्वकप जीता था।

स्टिमाक की नियुक्ति पर किसने क्या कहाः

एआईएफएफ अध्यक्ष प्रफुल्ल पटेल ने कहा है कि ”भारतीय टीम के कोच के पद के लिए इगोर स्टिमाक सही उम्मीदवार हैं। मैं उनका स्वागत करता हूं। भारतीय फुटबॉल इस समय कुछ समस्याओं से जूझ रहा है मुझे उम्मीद है Stimac के अनुभव से भारतीय फुटबाल टीम को फायदा होगा”।

एआईएफएफ जनरल सेक्रेटरी कुशल दास ने कहा ”भारतीय फुटबॉल टीम को इगोर के प्रशिक्षण में काफी फायदा होगा। उनका इतने वर्षों का खिलाड़ी और कोच दोनों ही रूप में अनुभव भारतीय फुटबॉल के लिए काफी फायदेमंद साबित होगा। ”

पूर्व भारतीय फुटबॉलर श्याम थापा (1970 में एशियन गेम्स में कांस्य पदक जीतने वाली टीम के सदस्य और फिलहाल तकनीकि समीति के अध्यक्ष) ने कहा है कि इगोर स्टिमाक की नियुक्ति एकमत से की गई है।