घर में ये दो’ष होने से बीमारी नहीं छोड़ती परिवार का पीछा

इस दुनिया में ऐसा कोई भी इंसान नहीं है जो कि बीमार होना चाहता हो लेकिन असल में हमारी ही गलतियों की वजह से हम बीमार होते हैं। अब ये गलतियां हमारी गलत आदतों की भी हो सकती हैं और वास्तु की भी। आज हम आपको कुछ ऐसे वास्तुदोषों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनके होने से आपके घर में हमेशा कोई ना कोई बीमार रहता है। अगर आपके साथ भी कुछ ऐसा हो रहा है कि आपके घर पर से बीमारी का साया दूर ही ना हो रहा तो यकीन मानिए इसका जिम्मेदार आपके घर में मौजूद वास्तुदोष है। तो चलिए जानते हैं कि वो कौन से वास्तुदोष हैं जिनकी वजह से ऐसा होता है और इन वास्तुदोषों को दूर करने के लिए हमे क्या उपाय करने चाहिए-

घर के मेन गेट का गंदा होना- आपके घर के मेन गेट के सामने किसी भी तरह की गंदगी नहीं होनी चाहिए। अक्सर हमारे मेन के सामने धूल-मिट्टी, कूड़ा या फिर गंदा पानी जमा हो जाता है। जैसे ही आपके घर के सामने इनमें से कुछ भी जमा हो तो उसे तुरंत साफ कर दें नहीं तो ये आपके परिवार पर मु’सीबत लेकर आता है।

घर के ब्रह्मस्थान पर भारी सामान का होना- घर के बीचो-बीच की जगह को ब्रह्मस्थान कहते हैं आपको इस जगह पर कभी भी कोई भी भारी सामान नहीं रखना चाहिए। अगर आपके घर में इस जगह पर कोई भारी सामान रखा है तो उसे आज ही हटा दें। इस स्थान खाली रखना शुभ होता है।

कांटेदार या फिर सूखे पौधों का घर में होना- आपको अपने घर में कभी भी कांटेदार पौधे नहीं लगाने चाहिए। ये शोपीस के लिए कई लोगों को अच्छे लगते हैं लेकिन इनका आपके परिवार पर बहुत ही बुरा असर होता है। घर में सूखे पौधे रखने से आपके घर को बुजुर्ग लोगों के स्वास्थ्य पर बुरा असर होता है।

किचन का इस दिशा में होना- वास्तु में इस बारे में बताय गया है कि अगर आपका घर आग्नेय कोण( दक्षिण और पूर्व दिशा के बीच के हिस्से को आग्नेय कोण कहते हैं।)की दिशा में नहीं होगा तो इससे आपके परिवार के सदस्य अक्सर बीमारी की च‘पेट में रहते हैं।

घर के मेन गेट के सामने पेड़ या फिर खंभे का होना- आपके घर के सामने पेड़ या फिर खंभे का होना बिल्कुल भी अच्छा नहीं माना जाता। इससे घर के बच्चों पर बहुत ही नकारात्मक असर होता है।
आपके लिए अगर घर के सामने से इनको हटाना संभव ना हो तो घर के मेन गेट पर स्वास्तिक का निशान बनाने और उसकी पूजा करने से बुरा असर कम होता है।

ऐसे ना हो आपका पूजाघर- आपको अपने घर में पूजा इस तरह से बनवाना चाहिए कि वो घर के मेन गेट के ठीक सामने ना हो। अगर आपका घर मेन गेट के ठीक सामने होगा तो इससे आपके घर में सकारात्मक ऊर्जा में कमी आती है।
अगर आप चाहते हैं कि आपके घर के लोगों का स्वास्थ्य अच्छा रहे तो इसके लिए आपको अपने पूजाघर में भगवान की मूर्तियों का मुंह दक्षिण दिशा की ओर करके रखना चाहिए।