अभी-अभी- ICICI बैंक ने चंदा कोचर को किया बर्खास्त, 2009 से मिले करोड़ों के बोनस वसूले जाएंगे

New Delhi: आईसीआईसीआई बैंक की प्रमुख रहीं चंदा कोचर की मुश्किलें बढ़ गई हैं। उन्हें बैंक ने बर्खास्त कर दिया है।

वीडियोकॉन लोन मामले में आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व प्रमुख चंदा कोचर की समस्याएं कम होने का नाम नहीं ले रही है। आईसीआईसीआई बैंक की ओर से इस मामले की स्वतंत्र जांच कराने का निर्णय लिया गया था।

ICICI बैंक की इस जांच में चंदा कोचर को निर्धारित आचार सहिंता के उल्लंघन का दोषी पाया गया है। हाईप्रोफाइल मामले की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायधीश जस्टिस बीएन श्रीकृष्ण की अध्यक्षता में एक कमेटी बनाई गई थी।

समिति ने बुधवार को आईसीआई बैंक को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है जिसमें चंदा कोचर को दोषी पाया गया है। आईसीआईसीआई बैंक ने वीडियोकॉन को 3250 करोड़ रुपए का लोन दिया था। इसमें हितों के टकराव का मामला समाने आया था।

Chanda Kochhar

सीबीआई इस मामले में चंदा कोचर और उनके पति दीपक कोचर के खिलाफ पहले ही एफआईआफ दर्ज कर चुकी है। जांच रिपोर्ट आने के बाद बैंक ने कहा कि चंदा कोचर से अप्रैल 2009 से मार्च 2018 के हीच दिए गए करोड़ों के बोनस वूसूली की जाएगी। चंदा कोचर ने बैंक के कोड ऑफ कंडक्ट का उल्लंघन किया है।