महात्मा गांधी को लेकर आप’त्तिजनक बयान देने पर एनसीपी नेता ने आईएएस निधि चौधरी के सस्पेंशन की मांग की

New Delhi : एनसीपी नेता जितेंद्र अवहद ने कहा कि हम आईएएस अधिकारी निधि चौधरी के सस्पेंशन की मांग करते हैं। उन्होंने कहा कि निधि का महात्मा गांधी को लेकर दिया गया बयान आप’त्तिजनक था। निधि ने गोडसे का महिमामंडन किया था और ये बिल्कुल भी ब’र्दाश्त नहीं किया जा सकता है।

आपको बता दें कि निधि ने 17 मई को एक ट्वीट कर गोडसे की तारीफ की थी। निधि ने कहा था कि ये सबसे सही समय है जब गांधी जी के चेहरे को करेंसी से हटा देना चाहिए और उनकी सभी मूर्तियों को दुनिया के सभी देशों से हटा देना चाहिए। निधि ने कहा गांधी के नाम पर रखे गए सभी सड़कों और संस्थानों के नामों को बदल देना चाहिए। यही उनके 150वीं जयंती पर हम सबकी तरफ से सच्ची श्रद्धांजलि होगी। शुक्रिया गोडसे फॉर 30/01/1948.

इस ट्वीट के बाद निधि की खूब आलोचना हो रही है। महाराष्ट्र के एक नेता ने निधि को सस्पेंड करने की मांग की है।

ये भी पढ़ें – वाईएसआर कांग्रेस और टीडीपी के कार्यकर्ताओं के बीच हुई झ’ड़प, एक की मौ’त

आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव के प्रचार के दौरान भी गोडसे को लेकर खूब वि’वाद हुआ था। भोपाल से सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने गोडसे को देशभक्त बताया था। जिसके बाद भाजपा ने प्रज्ञा को माफी मांगने को कहा था।
अभिनेता कमल हासन ने गोडसे को आजाद भारत का पहला आतंकवादी बताया था।

पिछले कुछ सालों से बार बार गोडसे को आम बहस का हिस्सा बनाने की कोशिश की जा रही है। आपको बता दें कि गोडसे महात्मा गांधी का ह’त्यारा था। जिसके लिेए उसे फां’सी की स’जा मिली थी।