हैदराबाद : आ’रोपियों ने खुद पंक्चर की थी महिला डॉक्टर की स्कूटी, गैंगरे’प से पहले जबरन पिलाई श’राब

New Delhi : तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में महिला वेटनरी डॉक्टर से गैंगरे’प के बाद ह’त्या और फिर लाश को ज’ला देने की घट’ना में कई बड़े खुलासे हुए हैं।

पुलिस ने इस मामले में अभी तक 4 युवकों को गिर’फ्तार किया है। इनकी पहचान मोहम्मद आरिफ, नवीन, चिंताकुंता केशावुलु और शिवा के तौर पर हुई है। पुलिस जांच में पता चला कि आ’रोपियों ने वा’रदात को अंजाम देने के लिए सा’जिश के तहत महिला डॉक्टर की स्कूटी पंक्चर की थी। ताकि वे महिला डॉक्‍टर को अपने जाल में फंसाकर वा’रदात को अंजाम दे सके।

पुलिस के मुताबिक, चारों आ’रोपियों ने महिला डॉक्टर को टोल प्लाजा पर स्कूटी पार्क करते देखा था। तभी एक आ’रोपी शिवा ने उसकी स्कूटी की हवा निकाल दी। जब महिला डॉक्टर अपनी ड्यूटी पूरी कर घर के लिए निकली, तो उसने देखा कि स्कूटी पंक्चर है। रात काफी होने के कारण महिला डॉक्टर ने अपनी छोटी बहन को फोन किया और स्कूटी खराब होने के बारे में बताया। साथ ही बहन से ये भी कहा कि उन्हें कुछ ठीक महसूस नहीं हो रहा। डर लग रहा है।

पुलिस में दिए परिवार के बयान के मुताबिक, छोटी बहन ने महिला डॉक्टर को स्कूटी वहीं छोड़कर कैब से घर आने की सलाह दी थी। इस दौरान आ’रोपी चिंताकुंता केशावुलु और शिवा वहां मदद के लिए पहुंच गए। शिवा स्कूटी ठीक कराने के बहाने महिला डॉक्टर को कुछ दूर ले गया, जहां बाकी आ’रोपी ताक लगाए बैठे थे। जैसी ही महिला डॉक्टर वहां पहुंची, आ’रोपियों ने उसे बंधक बना लिया।

पुलिस जांच में पता चला है कि दरिंदगी से पहले आ’रोपियों ने खूब श’राब पी। महिला डॉक्टर को भी जबरन श’राब पिलाई। इसके बाद आ’रोपी मोहम्‍मद आरिफ ने महिला डॉक्टर का मुंह हाथ से बंद कर दिया, ताकि वो चीख न सके। इस दौरान चारों आ’रोपियों ने बारी बारी से महिला डॉक्टर से रे’प किया। माना जा रहा है कि सांस नहीं ले पाने के कारण महिला डॉक्टर का दम घु’ट गया और मौ’त हो गई।