किसी वजह से चले गए हैं डिप्रेशन में तो कैसे बाहर निकलें..हर किसी के काम की है ये खबर

New Delhi : लगभग हर इंसान की जिंदगी में ऐसा पल आता है जब वो टूट जाता है। ऐसे में हम क्या करें। बहुत से लोग इतनी बुरी तरह टूट जाते हैं कि या तो उन्हें मानसिक बीमारी हो जाती है या फिर अपनी जान तक ले लेते हैं।

आज हम आपको डिप्रेशन से बाहर निकलने का तरीका आपको बताएंगे। हो सकता है ये आपके लिए मददगार हो। सबसे पहले तो उस वजह को बिल्कुल खत्म कर दीजिए जिसकी वजह से आपका मानसिक संतुलन बिगड़ गया है। बस ये याद रखिए कि आप हैं और जिंदा हैं।

सबसे पहले डिप्रेशन दूर करने के लिए आठ घंटे की नींद लें। नींद पूरी होगी तो दिमाग तरोताजा होगा और नकारात्मक भाव मन में कम आएंगे। प्रतिदिन सूरज की रोशनी में कुछ देर जरूर रहें। इससे अवसाद जल्दी हटेगा। बाहर टहलने जाएं। रोज बाहर टहलें, कभी-कभी कॉफी शॉप में कुछ समय बिताएं या बाहर खाना खाने जाएं। इससे मन में उत्साह बना रहेगा।

अपने काम का पूरा हिसाब रखें। दिन भर में आप कितना काम करते हैं और किस गतिविधि को कितना समय देते हैं इस पर जरूर गौर करें। इससे आपको सभी गतिविधियों के बीच संतुलन बनाने में आसानी होगी और तनाव कम होगा। डिप्रेशन से छुटकारा पाने के लिए आप अपनी विश लिस्ट बना सकते हैं जिसमें हर वह काम जिसमें आपको खुशी मिलती है जरूर करें। जैसे प्रकृति के करीब समय बिताना, अच्छी किताब पढ़ना, खाना बनाना, लिखना, संगीत सुनना, टीवी देखना या कोई मनपसंद शौक पूरा करना।

इसके लिए आप समय निर्धारित करें और कितने भी व्यस्त क्यों न हों इन्हें पूरा करने का प्रयास जरूर करें। इससे आपके मन की उदासी दूर होगी और कुछ नया करने का उत्साह बना रहेगा। आप इसमें कहां तक सफल हुए हैं और कितनी गतिविधियां कर पा रहे हैं, इसका लेखा-जोखा रखें।

जितना हो सके गुस्से पर काबू रखें। एक बार जब आपने अपने गुस्से पर थोड़ा नियंत्रण कर लिया तो शांत दिमाग से सोचें कि मुद्दा क्या था, गलती किसकी थी और अब आगे क्या करना है। इससे फायदा यह होगा कि आपको पूरे मामले में अपनी गलती भी समझ में आ जाएगी।