गृह मंत्रालय ने जारी की लॉकडाउन की गाइडलाइंस – बस-मेट्रो, फ्लाइट, स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगी, मेडिकल फैक्ट्री खुलेंगे

New Delhi : कोरोनो वायरस लॉकडाउन के बीच किन्हें छूट मिलने जा रही है इसकी गाइडलाइंस जारी हो गई हैं। इसमें बताया गया है कि घरेलू उड़नों पर फिलहाल पाबंदी जारी रहेंगी। मेट्रो और बस सेवा भी फिलहाल नहीं चलेंगी। स्कूल, कोचिंग संस्थान भी फिलहाल बंद ही रहेंगे। कृषि और मेडिकल क्षेत्र को लेकर रियायतें दी गई हैं। कृषि क्षेत्र में फॉर्मिंग, प्रोक्योरमेंट की पूरी प्रक्रियाओं को लॉकडाउन से छूट दी गई है। मेडिकल इक्विपमेंट के निर्माण से जुड़ी फैक्ट्रीज, मेडिकल फार्मा आदि से जुड़े फर्म, फैक्ट्री को खोला जायेगा। 20 अप्रैल के बाद जरूरी सामान महैया कराने वाली ई-कॉमर्स कंपनियां, जरूरी सामान बेचने वाली किराना दुकानें, राशन की दुकानें, फल-सब्जी के ठेले, साफ-सफाई का सामान बेचने वाली दुकानें, डेयरी और मिल्क बूथ, पोल्ट्री, मीट, मछली और चारा बेचने वाली दुकानें सोशल डिस्टेन्सिंग की शर्तों के साथ खोली जा सकती हैं। दूसरी तरफ ऑटो रिक्शा, साइकिल रिक्शा, टैक्सी और कैब सेवाएं, सभी सिनेमा हॉल, शॉपिंग मॉल, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, जिम, स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, स्वीमिंग पूल, एंटरटेनमेंट पार्क, थिएटर, बार, ऑडिटोरियम, असेंबली हॉल और इनके जैसी जगहें नहीं खुलेंगी। सभी तरह के सामाजिक, राजनीतिक, खेल, मनोरंजन, अकादमिक, सांस्कृतिक और धार्मिक समारोह की इजाजत नहीं होगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार के अपने भाषण में कहा था कि 20 अप्रैल तक और ज्यादा कड़ाई रहेगी। इसके बाद जो हॉटस्पॉट नहीं होंगे उन्हें छूट दी जाएगी। इन छूट पर गाइडलाइंस आज जारी हुई हैं। राज्य सरकारें अपने क्षेत्रों में किसी भी तरह से लॉकडाउन से जुड़ी गाइडलाइंस में ढील नहीं देंगी। सभी तरह की स्वास्थ्य सेवाएं जारी रहेंगी अस्पताल, नर्सिंग होम, क्लिनिक, टेलिमेडिसिन सेवाएं। डिस्पेंसरी, केमिस्ट, फार्मेसी, जन औषधि केंद्रों समेत सभी तरह की दवा की दुकानें और मेडिकल इक्विपमेंट की दुकानें। मेडिकल लैब और कलेक्शन सेंटर। फार्मा और मेडिकल रिसर्च लैब, कोरोना से जुड़ी रिसर्च करने वाले संस्थान। दवा, फार्मा, मेडिकल डिवाइस, मेडिकल ऑक्सीजन, उससे जुड़ा पैकेजिंग मटेरियल और रॉ मटेरियल बनाने वाली मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट्स। एंबुलेंस समेत मेडिकल, हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर का निर्माण। सभी तरह की मेडिकल, वेटरनरी सेवाओं से जुड़े लोग, साइंटिस्ट, नर्सें, पैरामेडिकल स्टाफ, लैब टेक्नीशियन, मिड वाइव्स और एंबुलेंस समेत अस्पताल से जुड़ी सेवाओं को करने वाले लोगों का राज्य के अंदर और बाहर मूवमेंट जारी रहेगा। खेती से जुड़ी सभी तरह की गतिविधियों को इजाजत रहेगी। खेतों में काम करने वाले किसान और खेती का काम करने वाले अन्य लोग।

इधर देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 11 हजार 502 हो गई है। बुधवार को महाराष्ट्र के मुंबई में 15 नए मरीज मिले, इनमें से 5 धारावी के हैं। इससे पहले मंगलवार को लगातार दूसरे दिन देश में कोरोना के 1 हजार से ज्यादा नए केस सामने आए। सबसे ज्यादा 350 मरीज मुंबई में मिले थे। महाराष्ट्र में अब 2 हजार 699 संक्रमित हो गए हैं। इसके अलावा जम्मू-कश्मीर में भी महामारी पैर पसार रही है। यहां 13 जिलों में कोरोना के 90 रेड जोन की पहचान हो चुकी है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार सुबह बताया कि बीते 24 घंटे में देश में कोरोना के 1 हजार 76 नए मामले सामने आए। इससे पहले 13 अप्रैल को 1 हजार 242, 10 अप्रैल को 871 और 11 अप्रैल को 854 मरीज मिले थे। स्वास्थ्य मंत्रालय हर दिन सुबह-शाम पिछले 24 घंटे के आंकड़े जारी करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− one = one