गृह मंत्रालय ने JK से 72 कंपनियां वापस बुलाईं,अब भी प्रदेश में तैनात हैं 2.50 लाख सैनिक

New Delhi : गृह मंत्रालय ने मंगलवार को जम्मू-कश्मीर से केंद्रीय सशस्त्र बलों के करीब 7200 जवानों को हटाने का ऐलान किया, लेकिन एक अनुमान के मुताबिक वहां अब भी 2 लाख सैनिक तैनात हैं। मंगलवार को सीआरपीएफ की 24, बीएसएफ की 12, आईटीबीपी की 12, सीआईएसएफ की 12 और एसएसबी की 12 कंपनियों को हटाया गया। सशस्त्र बलों की इन कंपनियों को हटाने की प्रक्रिया तुरंत शुरू कर दी गई।

केंद्र सरकार ने आधिकारिक तौर पर जम्मू-कश्मीर में तैनात सशस्त्र बलों की कुल संख्या का खुलासा नहीं किया है। रक्षा विशेषज्ञों के आंकलन और कई मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर में करीब 2 लाख 31 हजार जवान तैनात किए हैं। इनमें अंतरराष्ट्रीय सीमा पर तैनात सेना के जवान और नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर तैनात बीएसएफ के जवान शामिल नहीं हैं। हालांकि इनमें सेना के श्रीनगर स्थित 15 कोर, नगरोटा स्थित 16 कोर और सीएपीएफ के जवान शामिल हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर के अंदरूनी इलाकों में तैनात कुल 2,31,960 सुरक्षाकर्मियों में से 7,200 नियमित सैनिक हैं, इनके अलावा करीब 50,000 जवान आतंकवाद विरोधी अभियानों के लिए तैनात हैं। शेष बचे 1,60,560 सैनिकों में अर्धसैनिक बल और सैन्य संचार सेवा के जवान शामिल हैं।