गर्मी ने 10 साल का रिकार्ड तोड़ा : मौसम विभाग ने कहा- घर ही सुरक्षित, नौतपा अभी और तड़पायेगा

New Delhi : नौतपा ने देश को तड़पाना शुरू कर दिया है। नौतपा के दूसरे दिन राजस्थान के चूरू में दिन का तापमान 50 डिग्री दर्ज किया गया। पिछले 10 साल में मई के माह में यह दूसरा मौका था जब सबसे अधिक तापमान रहा। इससे पहले 19 मई 2016 को 50.2 डिग्री तापमान दर्ज किया गया था। दिल्ली में भी इस मौसम का सबसे गर्म दिन रिकार्ड किया गया। दिल्ली और हरियाणा में गर्मी ने 10 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया। चंडीगढ़ में सुबह से झुलसाने वाली गर्मी पड़ने से मौसम का सबसे गर्म दिन रहा।
मौसम विभाग ने चूरू, बीकानेर, हनुमानगढ़ और गंगानगर जिलों में अगले 24 घंटों में भीषण लू चलने की चेतावनी जारी की है। वहीं, हरियाणा, विदर्भ, पश्चिमी व पूर्वी मध्य प्रदेश और राजस्थान के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। गर्मी के सीजन में पिछले 4 साल में तीसरी बार चूरू में पारा रिकार्ड स्तर पर पहुंचा है। यहां 2 जून 2019 को पारा 50.8 और 19 मई 2016 को 50.2 डिग्री दर्ज हुआ था। अब हीट स्ट्रोक या लू (तापघात) का खतरा बढ़ गया है। प्रशासन ने मंगलवार को चूरू शहर की सड़कों पर पानी का छिड़काव कराया।
गर्मी का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि सुबह 8 बजे ही सूरज की किरणें आग उगलने लगी। हरियाणा भी प्रचंड गर्मी व लू की चपेट में है। मंगलवार को हिसार में दिन का तापमान 48 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया, जो सामान्य से 5 डिग्री ज्यादा है। यह मई महीने में 10 साल का रिकॉर्ड तापमान है। इससे पहले, 26 मई 2010 को 48.1 तापमान रहा था। इस बार भी 26 मई को ही सर्वाधिक गर्मी हुई है। दोपहर में 10 किमी प्रति घंटा की गति से चली लू व गर्मी की तपन ऐसी थी कि लोग कहते दिखे कि कत्ती फूंक दिए रै। वहीं, नारनौल में रात का पारा भी 31 डिग्री पहुंच गया।
राजधानी दिल्ली में दूसरे दिन लू का प्रकोप रहा। यहां के पालम इलाके में तापमान 47.6 दर्ज किया गया। इसके पहले 18 मई 2010 को यही तापमान रिकॉर्ड किया गया था। मौसम विभाग के मुताबिक, 29 मई 1944 को सफदरगंज में पारा 47.2 तक पहुंचा था। 26 मई 1968 को पालम में तापमान 48.4 रिकॉर्ड किया गया था। गुरुवार को दिल्ली में वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के चलते तेज हवा चल सकती है।
दक्षिण बिहार के 7 जिलों को अलर्ट रहने का निर्देश दिया है। गया, औरंगाबाद, नवादा, नालंदा, अरवल, जहानाबाद और कैमूर के जिलाधिकारियों को पिछले साल के अनुभव को देखते हुए विशेष सतर्कता बरतने का निर्देश है। नौतपा के दूसरे दिन भी पटना में पारा 40 डिग्री से ऊपर रहा। पटना में अधिकतम तापमान 40.8, तो गया में 45.8 डिग्री सेल्सियस डिग्री दर्ज किया गया। बिहार के अधिकतर जिलों में दो दिनों तक भीषण गर्मी का प्रकोप रहेगा। इस दौरान अधिकतम तापमान 43 डिग्री तक पहुंचने की संभावना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

+ sixty three = seventy one