एम्स में भर्ती अरुण जेटली की हालत में फिर आई गिरावट, तबीयत बिगड़ी

NEW DELHI: AIIMS के सूत्रों के मुताबिक भर्ती पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की तबीयत बिगड़ गई है।पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछताछ करने के लिए अस्पताल का दौरा किया। अरुण जेटली की हालत में अभी कोई सुधार नहीं है।

 उनकी हालत लगातार खराब होती जा रही है। अरुण जेटली को ECMO (एक्स्ट्रा कारपोरल मेंब्रेन ऑक्सीजेनेशन ) और IABP(इंट्रा-अरॉटिक बलून पंप) सपोर्ट पर रखा गया है। इसका सपोर्ट मरीज को तभी दिया जाता है जब फेफड़ा और दिल काम करना बंद कर देते हैं ।वित्त मंत्री 9 अगस्त से एम्स में भर्ती हैं। जब से वह भर्ती हुए हैं तब से देखने वालों का तांता लगा हैं। डॉक्टरों के मुताबिक उन्हें डायलिसिस की आवश्यकता पड़ सकती है। 

अरुण जेटली की गलत नीतियां अर्थव्यवस्था में मंदी के लिए जिम्मेदार :सुब्रमण्यम स्वामी

बता दें कि अरुण जेटली को वेंटीलेटर से हटा दिया गया है। उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया है। वरिष्ठ डॉक्टर लगातार उनकी स्थिति पर नजर रख रहे हैं। इलाज के साथ -साथ लोग उनके स्वस्थ होने के लिए दुआएं भी कर रहे हैं। उनके लिए लगातार पूजन, हवन किया जा रहा है।  जेटली का हाल जानने वालों का तांता लगा है।

किडनी संबंधी बीमारी से ग्रसित अरुण जेटली का पिछले साल मई में किडनी प्रत्यारोपण हुआ था। किडनी के साथ-साथ जेटली कैं’सर से भी जूझ रहे हैं। उनके बायें पैर में सॉफ्ट टिशू कैंसर हो गया है जिसकी सर्जरी के लिए जेटली इसी साल जनवरी में अमेरिका भी गए थे। वो सितंबर 2014 में डायबिटीज मैनेज के लिए गैस्ट्रिक बाईपास सर्जरी करा चुके हैं। इसके अलावा वो साल 2005 में हार्ट सर्जरी भी करा चुके हैं।