चुनाव आयोग ने विधानसभा चुनाव से लिया सबक, आम चुनाव में GPS की निगरानी में होगी EVM की आवाजाही

New Delhi: चुनाव आयोग ने विधानसभा चुनाव से सबक लेते हुए लोकसभा चुनावों में ईवीएम मशीनों की आवाजाही जीपीएस की निगरानी में करने का फैसला किया है।

चुनाव आयोग ने पिछले साल हुए पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के दौरान मतदान केंद्रों के इतर स्थानों पर ईवीएम मशीन ले जाने की घटनाओं से सबक लेते हुए लोकसभा चुनाव में वीवीपीएटी युक्त ईवीएम की आवाजाही पर जीपीएस की सतत निगरानी सुनिश्चित कर दी है।

चुनाव आयोग द्वारा लोकसभा चुनाव के लिए लागू की गई व्यवस्था के तहत ईवीएम को लाने ले जाने वाले वाहनों में जीपीएस लगाने का फैसला किया गया है। इससे मशीनों की आवाजाही पूरी तरह से जीपीएस की निगरानी में हो सकेगी।

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives, Live Bihar, Live India

पिछले साल हुए पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के दौरान ईवीएम मशीन को निर्वाचन पदाधिकारियों द्वारा मतदान केंद्र से होटल या अन्य स्थानों पर ले जाए जाने की शिकायतें मिलने के बाद आयोग ने यह व्यवस्था की है। आयोग ने मुख्य चुनाव अधिकारियों को चुनाव के दौरान ईवीएम मशीनों को मतदान केंद्र तक और मतदान केंद्र से कंट्रोल रूम तक पुहंचाने के लिए जीपीएस युक्त वाहनों का उपयोग करने का निर्देश दिया है।

चुनाव आयोग ने सीईओ से ईवीएम की आवाजाही पर सख्त निगरानी सुनिश्चित करने को कहा है। जीपीएस की मदद से ईवीएम को निर्धारित समय सीमा के भीतर गंतव्य तक पहुंचाने पर भी नजर रखी जाएगी। सात चरणों में होने वाले इस बार के लोकसभा चुनाव के लिए आयोग ने देश भर में लगभग 10.35 लाख मतदान केंद्र बनाए हैं।