तृप्ति देसाई आज करेंगी सबरीमाला मंदिर में प्रवेश, पुलिस और केरल सरकार को दी चुनौती

New Delhi: महिला अधिकार कार्यकर्ता तृप्ति देसाई आज अपनी पूरी टीम के साथ सबरीमाला मंदिर में प्रवेश करेंगी। उन्होंने सभों को चुनौती देते हुए कहा कि आज किसी भी कीमत पर भगवान अयप्पा के दर्शन कर के ही रहेंगी। तृप्ति देसाई ने कहा है कि आज संविधान दिवस है और इस शुभ अवसर पर हम सब सबरीमाला मंदिर जाएंगे।

उन्होंने कहा है कि मंदिर जाने से न तो राज्य सरकार और न ही पुलिस हमें रोक सकती है। चाहे हमें सुरक्षा मिले या नहीं, हम आज मंदिर जाएंगे। देसाई ने सबरीमाला में महिलाओं के प्रवेश को लेकर खूब संघर्ष किया है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा केरल के मशहूर अयप्पा मंदिर में 10 से 50 वर्ष की आयुवर्ग की महिलाओं के प्रवेश पर रोक हटाने के बाद उन्होंने पिछले साल नवंबर में मंदिर में प्रवेश करने की नाकाम कोशिश की थी।

सबरीमाला मंदिर मामले की सुनवाई को सुप्रीम कोर्ट की बड़ी बेंच को रेफर किए जाने के बाद से ही एक बार फिर इस मंदिर को लेकर विवादों का बाजार गर्म हो चुका है। सुप्रीम कोर्ट ने सबरीमाला मंदिर में सभी आयु वर्ग की महिलाओं के प्रवेश की अनुमति देने वाले फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका को बड़ी बेंच को भेज दिया है।

हालांकि न्यायालय ने बड़ी पीठ में सुनवाई के बाद फैसला आने तक अपना पूर्व में दिया गया फैसला लागू रखने का निर्णय दिया है। 2018 के इस फैसले में महिलाओं को मंदिर में प्रवेश करने की अनुमति दी गई है। सुप्रीम कोर्ट ने सदियों पुरानी इस हिंदू प्रथा को गैरकानूनी और असंवैधानिक बताया था।

अभी फिलहाल मंडला पूजा उत्सव के लिए मंदिर के पट भक्तों के लिए खोल दिए गए हैं। मंदिर में तीन महीने की तीर्थयात्रा मौसम के दौरान यहां पूजा-अर्चना की जा रही है।