अच्छी खबर : देश के 3 राज्य ऐसे जिन्होंने कोरोना को हरा दिया, 5 ने तो घुसने ही नहीं दिया सूबे में

New Delhi : देश में Corona virus के संक्रमण फैलने का खतरा लगातार बढ़ता ही जा रहा है, लेकिन दूसरी ओर कुछ अच्छी खबर भी सामने आ रही है। देश में कुल 32 राज्यों में से तीन राज्य COVID-19 मुक्त हो गए हैं। अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर और गोवा राज्य में कोरोना के मामले सामने आये थे लेकिन अब एक भी पॉजिटिव केस इन तीन राज्यों में नहीं है। कोरोना के मरीज इन राज्यों से ठीक होकर अस्पताल से डिस्चार्ज हो चुके हैं। नये केस नहीं आये हैं। वहीं, पांच ऐसे भी राज्य/केंद्र शासित प्रदेश हैं, जिनमें अभी तक एक भी कोरोना के केस नहीं आये हैं। नागालैंड, सिक्किम, दमन दीव, दादर एंड नागर हवेली और लक्षदीप में कोरोना का कोई भी मामला नहीं आया है।

अरुणाचल प्रदेश पुलिस जरूरतमंदों के बीच राशन का वितरण करते हुये।

वैसे पूरे देश में कोरोना के संक्रमण का कहर भारत में लगातार जारी है। लॉकडाउन के बावजूद इसके मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है। इस बीच देश में कोरोनावायरस के मरीज़ों की तादाद 21,000 पार कर गई है। लेकिन इस बीच एक राहत भरी खबर है। देशभर में 23 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 78 ऐसे जिले हैं, जहां पिछले 14 दिनों से कोई केस नहीं आया है। ऐसे जिलों की संख्या धीरे-धीरे बढ़ रही है, जो राहत की खबर है। राहत की खबर ये है कि 12 जिलों में पिछले 28 दिनों में कोरोना का कोई भी मामला सामने नहीं आया है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को बताया अब तक 4,257 लोग ठीक हो चुके हैं, बुधवार को ही 388 मरीज ठीक हुये हैं। वर्तमान में देश में कोरोना वायरस के कुल संक्रमित मामलों की संख्या बढ़कर बढ़कर 21,393 हो गई है।

हर एक जगह हर व्यक्ति की स्क्रीनिंग : प्रतीकात्मक तस्वीर

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल के मुताबिक पिछले 24 घंटों में 1049 कुल पॉजिटिव केस आये हैं। इसके बाद पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 21 हजार के पार चली गई है। राहत की बात यह है कि वैश्विक महामारी से देश में अब तक 4,257 लोग ठीक हो चुके हैं। वहीं, पर्यावरण सचिव और एमपॉवरड ग्रुप-2 के अध्यक्ष सीके मिश्रा ने बताया कि 23 मार्च को हमने पूरे देश में 14,915 टेस्ट किए थे, 22 अप्रैल को हमने 5 लाख से ज्यादा टेस्ट किए हैं। ये 30 दिनों में 33 गुना हैं। पर हमें ये पता है कि ये काफी नहीं है और हमें लगातार आगे बढ़ना है और देश में टेस्टिंग को बढ़ाना है। इधर गृह मंत्रालय की संयुक्‍त सचिव पुण्‍य सलिला श्रीवास्‍तव ने बताया कि गर्मी के मौसम को देखते हुए इलेक्ट्रिक पंखों की दुकानों को खोलने की अनुमति दी गई है। इसके अलावा मोबाइल रिचार्ज की दुकानें भी खोली जा सकेंगी। गुरुवार को कोरोना वायरस और लॉकडाउन की स्थिति पर स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय और गृह मंत्रालय की संयुक्‍त प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने ये जानकारी दी है।

हर इलाके की स्क्रीनिंग की गई। प्रतीकात्मक तस्वीर

गृह मंत्रालय की संयुक्‍त सचिव ने कहा, मंत्रालय ने स्पष्ट किया है कि वरिष्ठ नागरिकों की बैक साइड अटेंडेंट और देखभाल सेवाओं को प्रतिबंधों से छूट दी गई है। प्रीपेड मोबाइल की रिचार्ज सेवाओं, शहरी क्षेत्रों में स्थित खाद्य प्रसंस्करण उद्योग जैसे मिल्क प्रोसेसिंग यूनिट, ब्रेड फैक्ट्री, आटा मिलों को छूट प्राप्त है। विद्यार्थियों के लिए शैक्षिक किताबों की दुकानों और इलेक्ट्रिक पंखों की दुकानों को खोलने की भी अनुमति है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− one = 1