महाराष्ट्र के बाद अब उड़ीसा में लगातार हो रही बारिश, 650 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया

New Delhi : बारिश का क’हर थमने का नाम नहीं ले रहा है। पहले मुंबई फिर गुजरात और अब उड़ीसा में बारिश ने त’बाही मचा रखी है। उड़ीसा में काशीनगर से किडीगन को जोड़ने वाली सड़क पर जलभराव से बाढ़ जैसी स्थिति आ गई है। गाजीपुर जिले में आई इस तरह सड़कों पर पानी भरने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। जानकारी के मुताबिक अब तक काशीनगर ब्लॉक के 650 लोगों को वहां से निकालकर सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया गया है। अभी लोगों को निकालने की कवायद जारी है।

राज्य के कई भागों में लगातार हो रही बारिश से लोग काफी चिं’तित हैं। उनकी जिंदगी अ’स्त -व्य’स्त हो गई है। रायगढ़ में बारिश के कारण पुल के गि’र जाने के कारण चार पंचायतें (कुचीपाडर, डैंगेसिल, काडीपरी और मैकांचा) काशीपुर ब्लॉक से क’टकर अलग हो गए हैं। इसके अलावा रेलवे सेवा भी बा’धित हो गई है।

मलकानगिरि के एसपी जगमोहन मीना ने बताया कि मलकानगिरि जिले में सड़क में पानी भर जाने के कारण तीन लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया। खैरापुट क्षेत्र के माजीगुडा और केंडुगुडा गांव भी सड़क से क’ट गए हैं। यहां फं’से हुए पांच लोग जिनमें 2 गर्भवती महिलाएं भी शामिल थीं और दो बच्चे थे उन्हें सुरक्षित निकाल लिया गया है।

बता दें कि कुछ दिनों पहले मौसम विभाग ने अ’लर्ट जारी किया था कि देश के 15 राज्यों में अगले कुछ दिनों तक जोरदार बारिश की संभावना है। मौसम विभाग के अनुसार  पश्चिमी उत्तर प्रदेश,पश्चिमी राजस्थान,हरियाणा, चंडीगढ़,दिल्ली,हिमाचल प्रदेश,पंजाब, पूर्वी मध्य प्रदेश,कर्नाटक, तेलंगाना और गुजरात के क्षेत्रों में जो’रदार बारिश होगी।

महाराष्ट्र में पहले से ही झमाझम बारिश हो रहा है। मायानगरी मुंबई में हर तरफ पानी ही पानी भरा हुआ है। आशं’का है कि फिलहाल अभी मुंबई में बारिश से राहत नहीं मिलने वाली है। मौसम विभाग ने हिदा’यत दी है कि दक्षिण और पश्चिमी अरब सागर के साथ-साथ उत्तर, केंद्रीय अरब सागर में तेज हवाएं चल सकती हैं जिसके चलते मधुआरे और पर्यटक तटीय इलाकों में ना जायें।