रक्‍त-शुद्धि से लेकर हाजमे तक सौंफ में समाए हैं कई चमत्‍कारी गुण, ऐसे करें प्रयोग

New Delhi: सौँफ में कई तरह की औषधीय गुण पाए जाते हैं। खाने के बाद सौंफ का सेवन काफी अच्छा माना जाता है। इससे न केवल खाना पचता है, बल्कि पाचन क्रिया भी दुरुस्त रहती है।

सौँफ में कई तरह की औषधीय गुण पाए जाते हैं। अगर आप इसका इस्तेमाल नियमित तौर पर करते है तो स्वास्थय संबंधी दिक्कतें नहीं होती है। सौंफ में आयरन, सोडियम, कैल्शियम और फाइबर भरपूर मात्रा में पायी जाती है, जिसके कारण मांसपेशियां और हड्डियां मजबूत होती है। वहीं सौंफ के इस्तेमाल से पेट संबंधी दिक्कतों में भी तुरंत आराम मिलता है। साथ ही अगर कब्ज की शिकायत लम्बे समय से आ रही है तो सौंफ खाने से जल्द ही इससे आराम मिल सकता है। वहीं सौंफ का एक चम्मच सुबह शाम पानी के साथ इस्तेमाल करने पर आंखों की रोशनी भी तेज होती है। इससे न केवल रतौंधी जैसे रोगियों के लिए फायदेमंद होता है, बल्कि आंख से जुड़ी हर छोटी बड़ी समस्या से निजात मिलता है।

खाने के बाद सौंफ का सेवन काफी अच्छा माना जाता है। इससे न केवल खाना पचता है, बल्कि पाचन क्रिया भी दुरस्त रहती है। वहीं अगर तेज गर्मी हो रही है तो सौंफ को ठंडाई बनाकर पीने से न सिर्फ जी मचलाना और गैस संबंधी दिक्कतें दुरुस्त होती है, बल्कि शरीर में एनर्जी भी आता है। वहीं डायरिया होने पर सौँफ को रामबाण इलाज माना जाता है। इसके अलावा अगर आपको कच्ची डकारें आती है तो थोड़ी मात्रा में सौंफ पानी में उबालकर पीने से तुंरत लाफ मिलता है।

साथ ही हाथ-पांव में जलन की शिकायत होने पर सौफ के साथ धनिया और मिश्री को मिलाकर खाने से कुछ दिनों में आराम मिल जाता है। ऐसे में लोगों को यह सलाह दी जाती है कि सौंफ को निश्चित मात्रा में प्रतिदिन करना चाहिए, ताकि स्वास्थ्य संबंधी दिक्कत न हो और शरीर पूरी तरह से स्वस्थ्य रहे।