कुलभूषण जाधव की फांसी पर रोक के लिए मुंबई से लेकर वाराणसी तक लोग कर रहे थे दुआ

New Delhi: कुलभूषण जाधव पर ICJ  का फैसला भारत के पक्ष में आया है। ICJ के 16 जजों में 15 ने भारत के पक्ष में फैसला सुनाया। पूरे देश में उनकी जीत के लिए दुआओं का दौर जारी था।  मुंबई से लेकर वाराणसी और पटना तक यज्ञ और हवन किए जा रहे थें। देश के हर कोने से लोग जाधव के लिए भगवान से दुआ कर रहे थे। लोगों के दुआओं का  असर  भी देखने को मिला और  फैलसा कुलभूषण के हक में आया।

बुधवार को आईसीजे की कानूनी सलाहकार रीमा ओमेर ने ट्विटर पर कहा की कुलभूषण मामले में फैसला भारत के पक्ष में है। आईसीजे ने पकिस्तान से कहा है जल्द से जल्द कुलभूषण जाधव को काउंसलर देने को कहा गया है। कुलभूषण मामले में ICJ ने 15-1 से भारत के पक्ष में फैसला दिया है।

न्यायालय ने यह भी कहा है कि जाधव की मौत की सजा तब तक निलंबित रहनी चाहिए जब तक कि पाकिस्तान प्रभावी रूप से पाकिस्तान के आर्ट 36 (1) के उल्लंघन के संदर्भ में सजा / सजा पर पुनर्विचार या पुनर्विचार नहीं करता है, यानी कांसुलर एक्सेस और अधिसूचना से इनकार करता है आईसीजे ने योग्यता के आधार पर जाधव के अधिकार और अधिसूचना की पुष्टि करते हुए, योग्यता के आधार पर भारत के पक्ष में फैसला सुनाया है

कोर्ट ने पाकिस्तान को उसकी सजा और सजा की प्रभावी समीक्षा और पुनर्विचार करने का निर्देश दिया हैभारत को मिली कुलभूषण मामले में एक बड़ी राजनयिक जीत मिली है।