किसान ने बनवाया मोदी का मंदिर, दिन में 4 बार होती है मोदी की आरती

New Delhi : तमिलनाडु के त्रिची में 50 साल के किसान पी. शंकर ने अपने खेत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मंदिर बनाया है। इसे ‘नमो’ नाम दिया है। यहां दिन में चार बार आरती की जाती है। शंकर की इच्छा है कि खुद मोदी आकर मंदिर का उद्घाटन करें।

मंदिर में मोदी की प्रतिमा के अलावा एमजी रामचंद्रन, जे जयललिता और तमिलनाडु के सीएम के पलानीस्वामी की फोटो भी लगाई है। शंकर कहते हैं- “मोदी भगवान जैसे हैं, क्योंकि वे यहां विकास करने आए हैं।”

पी. शंकर अपने गांव इराकुडी में किसान संघ के अध्यक्ष भी हैं। उन्होंने बताया कि वह 2014 से मंदिर बनाने की सोच रहे थे। पहले उन्होंने मोदी की मेटल की मूर्ति बनवाने की कोशिश की, लेकिन इस पर 1 लाख रुपए खर्च आ रहा था। ग्रेनाइट की मूर्ति 80 हजार रुपए में पड़ रही थी। इतना बजट नहीं था, इसीलिए पत्थर और सीमेंट से दो फीट ऊंची मूर्ति तैयार कराई। इसमें 10 हजार रुपए का खर्च आया, बाकी पैसा मंदिर बनाने में लगा। उन्होंने मंदिर बनाने में किसी तरह की मदद नहीं ली।

पी. शंकर के अनुसार, “मंदिर मोदी के लिए उनके प्यार की मिसाल है। इसके निर्माण के पीछे कई वजह हैं। एक वजह है मेडिकल एडमिशन के लिए आयोजित होने वाली नीट परीक्षा। उनकी बेटी को प्लस 2 में 1105 अंक मिले थे। मेडिकल परीक्षा में वह 2 अंक से फेल हो गई। प्राइवेट मेडिकल कॉलेज दाखिले के लिए मोटी रकम मांग रहे थे। इस पर बेटी का एडमिशन अन्ना यूनिवर्सिटी में इंजीनियरिंग कम्प्यूटर साइंस में कराया। अब नीट लागू होने से मेडिकल में एडमिशन का अवैध धंधा बंद हो गया है।