आग की घटना के बाद ESIC अस्पताल में कर्मचारियों का प्रदर्शन, कहा- इलाज के नाम पर हो रहा खेल

NEW DELHI: मुंबई के अंधेरी के कामगार अस्पताल में भीषण आग लगने से 8 लोगों की जान चली गई है। शाम करीब 6 बजे अस्पताल में आग लगी थी जिसमें 2 लोग आग की चपेट में आये थे। लेकिन अब मरने वालों की संख्या बढ़कर 8 हो गई है। अस्पताल में भीषण आग से 100 से ज्यादा लोग घायल बताए गए। ईएसआईसी कामगार अस्पताल के 9वीं मंजिल पर आग लगी, जिसके बाद अफरातफरी का माहौल बन गया।

ईएसआईसी कामगार अस्पताल में इस हादसे के बाद अस्पातल के कर्मचारी सुविधाओं की मांग कर जमकर प्रदर्शन कर रहे हैं। कर्मचारियों का आरोप हैं कि अस्पताल में सुरक्षा को लेकर कोई इंतजाम नहीं हैं, ऐसे में अगर कोई हादसा हो जाए तो इसकी जिम्मेदारी लेने से अस्पताल पीछे हट जाता है।

 inadequate facilities

इससे पहले भी मुबंई की मशहूर 18 मंजिला अशोका सम्राट की इमारत में अचानक आग की लपटे उठने लगी और देखते ही देखते इमारत में भीषण आग लग गई। इस हादसे में एक बुजुर्ग महिला की मौक हो गई जबकि 19 लोग गंभीर रूप से झूलस गए। इमारत में आग लगने के चलते 50 से ज्यादा लोग फंस गए थे।

आग लगने की खबर मिलते ही दमकल की गाड़ी मौके पर पहुंची और राहत व बचाव में जुट गई। दमकल विभाग ने फंसे लोगों को निकालने के लिए सुबह करीब 3 बजे बचाव अभियान की शुरूआत की। इसके बाद लोगों को इमारत से बाहर निकाला गया। निकाले गए सभी लोगों को तुरंत पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां एक बुजुर्ग महिला, जिसकी पहचान लक्ष्मीबाई के रूप में हुई, उसने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया, जबकि 77 लोगों को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई।

आपको बता दें कि पिछले कुछ महीनों में मुंबई में इस तरह की यह कोई पहली घटना नहीं हैं। इससे पहले मुंबई के अंधेरी उपनगरीय इलाके में वीरा देसाई रोड पर स्थित एक बहुमंजिला इमारत में आग लगने से दो व्यक्तियों की मौत हो गई थी। बृहन्मंबई महानगरपालिका यानी बीएमसी के आपदा प्रबंधन इकाई के एक अधिकारी ने बताया खा कि दमकल विभाग के कर्मियों ने तीन व्यक्तियों को निकाला।