कश्मीर के शोपियां में सुरक्षा बलों और आतंकियों में मुठभेड़, 3 आतंकी ढेर, तीन और घिरे

New Delhi : जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में आतंकियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ हो गई है। समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार मुठभेड़ शोपियां के सुगु इलाके में हो रही है। पुलिस और सुरक्षा बल ऑपरेशन को अंजाम दे रहे हैं। जम्मू-कश्मीर के शोपियां में 3 आतंकवादियों को मार गिराया है। ऑपरेशन जारी है। दो-तीन आतंकी गांव में घिरे हुये हैं। शोपियां जिले में इस सप्ताह ये तीसरी मुठभेड़ हो रही है। बीती दो मुठभेड़ों में 9 आतंकी मारे जा चुके हैं। शोपियां जिले में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच सुबह करीब साढ़े 5 बजे मुठभेड़ शुरू हुई। सुरक्षाबलों की संयुक्त टीम इस ऑपरेशन को अंजाम दे रही है। जिसमें जम्मू-कश्मीर पुलिस, 44 आरआर और सीआरपीएफ शामिल है।

बता दें कि शोपियां में तड़के शुरू हुई मुठभेड़ में दोनों तरफ से फायरिंग हो रही है। दक्षिण कश्मीर के सुगू शोपियां में जारी मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया है। शोपियां में बीते 4 दिनों में यह तीसरी मुठभेड़ है जिनमें अब तक 12 आतंकी मारे गए हैं। इससे पूर्व इतवार को शोपियां में सुरक्षाबलों ने पांच और फिर सोमवार को शोपियां के पिंजरा इलाके में चार आतंकियों को मार गिराया था।
जम्मू-कश्मीर में बीते दिनों सुरक्षाबलों ने हिज्बुल मुजाहिदीन, लश्कर-ए-तैयबा समेत कई आतंकी समूहों के टॉप कमांडरों को मौत के घाट उतारा है। ईद के बाद सुरक्षाबलों ने आतंकियों के खिलाफ अपने ऑपरेशंस में तेजी लाई है और आतंकी समूहों के शीर्ष नेतृत्व पर नजर रखी हुई है।
जम्मू-कश्मीर में पिछले 15 दिनों में 22 आतंकवादियों को मारा जा चुका है। इसमें से आठ टॉप कमांडर शामिल हैं। एक सूत्र ने कहा- आतंकियों के खिलाफ जारी ऑपरेशन बिना वहां के निवासियों को नुकसान पहुंचाए किए गए हैं। कुलगाम में 25 मई को इस्लामिक स्टेट जम्मू-कश्मीर के कमांडर आदिल अहमद वानी और लश्कर-ए-तैयबा के शाहीन अहमद ठोकर को मारा गया। इसके बाद कुलगाम के वानपोरा इलाके में 30 मई को हिज्बुल मुजाहिदीन के कमांडर परवेज अहमद और जैश-ए-मोहम्मद के टॉप कमांडर शाकिर अहमद को सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में ढेर कर दिया।
इसके बाद दो जून को सुरक्षाबलों ने आवंतीपोरा के त्राल में हुए एक एनकाउंटर में जैश-ए-मोहम्मद के ग्रुप कमांडर आकिब रमजान वाणी को मार गिराया। इसी एनकाउंटर में आवंतीपोरा का जेईएम कमांडर मोहम्मद मकबूल भी मारा गया। सूत्रों के अनुसार, तीन जून को सेना को तब बड़ी सफलता हासिल हुई, जब जैश के टॉप कमांडर फौजी भाई, हिज्बुल के मंजूर अहमद कर और जेईएम के कमांडर जावेद अहमद को पुलवामा में ढेर कर दिया गया। इसके बाद शोपियां में सात जून को हिज्बुल के इशफाक अहमद को ढेर किया गया। वहीं, उसी एनकाउंटर में आदिल अहमद मीर, बिलाल अहमद भट्ट और सज्जाद अहमद वागे को भी सेना ने मार गिराया।

 

सात जून को हुए एनकाउंटर में हिज्बुल के कमांडर उमर, लश्कर के रईस अहमद खान, हिज्बुल के सकलैन अहमद और वकील अहम नईकू जैसे कमांडरों को सेना ने मार दिया। इसके अलावा सूत्रों ने बताया कि राजौरी में सुरक्षाबलों ने 28 मई को भी चार आतंकियों को ढेर कर दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventy five − = sixty nine