पूर्व सांसदों ने सरकारी आवास खाली नहीं किए तो काट दिए जाएंगे बिजली, पानी और गैस कनेक्शन

New Delhi: 17वीं लोकसभा का गठन हुए लगभग ढाई महीनें से ज्यादा हो गए लेकिन अभी तक तकरीबन 200 पूर्व सांसदों ने अपना सरकारी बंगला खाली नहीं किया है। ऐसे में यह फैसला लिया गया है कि अगर तीन दिन के भीतर सरकारी बँगला को खाली नहीं किया गया तो बिजली, पानी और गैस कनेक्शन काट दिए जायेंगे।

आज यानी सोमवार को सीआर पाटिल की अध्यक्षता में लोकसभा की आवास समिति की बैठक हुई। समिति ने पूर्व सांसदों को निर्देश दिए हैं कि वे सात दिन के अंदर अपने आधिकारिक आवास खाली कर लें।

नियम के मुताबिक़ लोकसभा भंग होने के बाद पूर्व सांसदों को अपना आवास महीनें भर के भीतर खाली कर देना होता है। 16वां लोकसभा भांग हुए भी ढाई महीने से ज्यादा हो गया है। सरकारी आवास खाली न होने की वजह से नवनिर्वाचित सांसदों को किसी और के घर , होटलों में रहना पड़ रहा है।

गौरतलब है कि सोमवार को सांसदों को लिए नवनिर्मित आवासों का आज पीएम मोदी के द्वारा किया गया। लोकसभा अध्यक्ष ने ट्वीट कर कहा कि सांसदों के लिए अत्याधुनिक सुविधाओं एवं तकनीकों से सुसज्जित डुप्लेक्स हाउसिंग परिसर का उद्घाटन माननीय प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा किया गया। इसमें माननीय सांसदों से मिलने आने वाले संसदीय क्षेत्र के लोगों की सुविधाओं एवं उनके हितों का अधिकाधिक ख्याल रखा गया है”।