ईडी ने मनीलॉ’न्ड्रिंग मा’मले में डीके शिवकुमार की बेटी से की पूछताछ

New Delhi: कांग्रेस के दिग्गज नेता डीके शिवकुमार से जुड़े मनीलॉ’न्ड्रिंग मा’मले की जां’च अब उनके परिवारजनों और करीबियों तक भी पहुँचने लगी है। मनी लॉ’न्ड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा डी के शिवकुमार की बेटी से पूछताछ की जा रही है। डीके शिवकुमार की बेटी, ऐश्वर्या को ईडी ने गुरूवार को जांच एजेंसी के दिल्ली मुख्यालय में जांच में शामिल होने के लिए कहा था।

LIVE INDIA

सूत्रों के मुताबिक, ऐश्वर्या से जुलाई 2017 में उनकी सिंगापुर यात्रा के बारे में पूछता’छ की जा रही है, जिसमें वह अपने पिता के साथ गई थीं। डीके शिवकुमार का दावा है कि यह एक व्यापारिक सौदा था। हालांकि, ईडी का कहना है कि यह यात्रा अब संदेह के घेरे में है।

इससे पहले मंगलवार को मनी लॉ’न्ड्रिंग के सिलसिले में प्रवर्तन निदेशालय ने डीके शिवकुमार की बेटी ऐश्वर्या समन जारी किया था और उन्हें 12 सितंबर को प्रवर्तन निदेशालय सामने पेश होने का आदेश दिया था।

इसके अलावा ईडी ने कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार के कथित करीबी सचिन नारायण से भी मनी लॉ’न्ड्रिंग मा’मले में पूछता’छ की है। सचिन नारायण और डीके शिवकुमार बिजनेस एसोसिएट हैं और ज़ीउस कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड में 2014 तक कॉमन निदेशक थे।

आपको बता दें डीके शिवकुमार मनी लॉ’न्ड्रिंग के मामले में 13 सितंबर तक प्रवर्तन निदेशालय की हि’रासत में हैं। दिल्ली के राउज एवेन्यू कोर्ट ने कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार को हि’रासत में भेज दिया था। ईडी ने कोर्ट में कहा था डीके शिवकुमार से हि’रासत में पूछता’छ की आवश्यकता है। क्योंकि उनसे दस्तावेजों के साथ पूछता’छ की जा सके। मा’मले की जांच जारी है। ईडी ने बताया शिवकुमार जाँ’च में सहयोग नहीं कर रहे हैं। जांच के दौरान वह सवालों को टाल रहे हैं और अस्पष्ट जवाब दे रहे हैं। ईडी ने कहा उनके इस रवैया से लगा रहा है कि वह मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में दोषी है। प्रवर्तन निदेशालय ने यह कार्र’वाई मनी लॉ’न्ड्रिंग नि’रोधक कानून (PMLA) के तहत की है। यह मा’मला ‘ह’वाला’ (अ’वैध) लेनदेन में उनकी कथित संलिप्तता से संबंधित है।