क्या आप भी लंबे घंटों तक करते हैं काम? स्ट्रोक के हो सकते हैं शिकार!

नौकरी करने वालों में अपना काम करने वालों की तुलना में खतरा ज्यादा

नई दिल्लीः आज बढ़ती प्रतियोगिता के बीच लोगों को लंबे घंटों तक काम करना पड़ता है। खासतौर से निजी क्षेत्र में नौकरी करने वाले लोगों में समस्या आम है कि वहां बिना किसी ब्रेक के बहुत-बहुत घंटों तक अपने कर्मचारियों से काम लेने का चलन है। बढ़ती बेरोजगारी के बीच लोगों के पास रोजगार के विकल्प सीमित होने के कारण वो भी चुपचाप इस शोषण को सह रहे हैं।

एक अध्ययन में ये बताया गया है कि ज्यादा लंबे घंटों तक काम करना स्ट्रोक के खतरे को बढ़ा देता है। अध्ययन में बताया गया कि जिन लोगों ने एक दशक से ज्यादा लंबे घंटों तक काम किया उनमें स्ट्रोक का खतरा ज्यादा था। फ्रेंच अध्ययन में लंबे घंटों को इस तरह से परिभाषित किया गया कि एक साल में कम से कम 50 दिन 10 घंटे से ज्यादा काम करना। अगर आप भी इस श्रेणी में आते हैं तो आपको थोड़ा सावधान होने की जरूरत है।

लेकिन इस पर यूके की स्ट्रोक एसोसिएशन का कहना है कि ऐसी बहुत सी चीजें हैं जो लोग इसका सामना करने के लिए कर सकते है जैसे की व्यायाम करना और अच्छी तरह से खाना। Angers University और  French National Institute of Health and Medical Research के शोधकर्ताओं ने 1,43,000 से ज्यादा व्यस्कों की उम्र, धुम्रपान और काम के घंटों के आंकड़ों को देखा। बस एक तिहाई ने लंबे घंटों तक काम किया, जिनमें से 10 प्रतिशत ने 10 साल या उससे ज्यादा लंबे घंटों तक काम किया। कुल मिलाकर इनमें से 1,224 को स्ट्रोक आया।

American Heart Association के जर्नल Stroke में शोधकर्ताओं ने बताया कि लंबे घंटों तक काम करने वाले लोगों में स्ट्रोक का खतरा 29 प्रतिशत ज्यादा था और जिन लोगों ने ऐसा 10 साल या उससे ज्यादा के लिए किया उनमें इसका 45 प्रतिशत खतरा अधिक था। इस अध्ययन की शोधकर्ता Dr Alexis Descatha ने कहा कि 10 सालों तक लंबे घंटों तक काम करने और स्ट्रोक का खतरा उन लोगों में ज्यादा दिखता है जिनकी उम्र 50 वर्ष से कम है। उन्होंने कहा कि एक चिकित्सक के रूप में मैं अपने रोगियों को ज्यादा कुशलता से काम करने की सलाह दूंगी और मेरी भी ये सलाह मानने की योजना है।

अन्य शोधों में ये पता चला कि जो लोग अपना खुद का बिजनेस चला रहे हैं या फिर सीईओ या प्रबंधक है वो ज्यादा घंटे काम करने से कम प्रभावित दिखे। जबकि जो लोग अनियमित शिफ्ट और रात में काम कर रहे हैं या फिर जिनके पास नौकरी से संबंधित तनाव है उनमें इसका खतरा ज्यादा दिखा।

एक अन्य शोधकर्ता Dr Richard Francis ने कहा कि ऐसी बहुत सी आसान चीजें हैं जो आप लंबे घंटों तक काम करने के बाद भी खुद को स्ट्रोक से बचाने के लिए कर सकते हैं जैसे कि स्वस्थ आहार लेना, व्यायाम के लिए समय निकालना, धुम्रपान बंद करना, पर्याप्त घंटों की नींद लेना आपके स्वास्थ्य में बहुत बड़ा अंतर ला सकता है।