DM बोले- जो मिल रहा है ले लो, शुक्र मनाओ, अगर बेटी कोरोना की वजह से चल बसती तो क्या मिलता?

New Delhi : हाथरस प्रकरण में भी योगी सरकार झुकने को तैयार नहीं। सरकार के आदेश के बाद इस मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। दोनों पर महामारी रोकथाम अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। दोनों पीड़ितों के परिजनों से मिलने हाथरस जा रहे थे और प्रशासन ने ग्रेटर नोएडा में यमुना एक्सप्रेस पर उनका काफिला रोक दिया। काफी हंगामा हुआ और अंतत: दोनों को गिरफ्तार कर बुद्धा सर्किट हाउस में शाम तक रखा गया। शाम में छोड़ दिया गया। देर रात खबर आई कि उनके खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत एफआईआर की गई है।

दूसरी तरफ हाथरस के डीएम का एक वीडियो वायरल हो गया है। वीडियो का आज का बताया जा रहा है। वीडियो में डीएम पीडित के परिजनों खासकर पिता से बात कर रहे हैं और एक लहजे से उन्हें चेता भी रहे हैं। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्सर ने कहा- मीडियावाले हमेशा नहीं रहेंगे। आधे आज चले गये हैं, बाकी कल चले जायेंगे। हमलोग ही रहेंगे यहां पर। सोच लो, बयान बदलना, नहीं बदलना आपके हाथ में है। उसमें कोई क्या कहेगा। जो मिल रहा है उसे रख लीजिये। अभी कोरोना चल रहा है। अगर बेटी कोरोना की वजह से चल बसती तो फिर क्या मिलता?
इधर उत्तर प्रदेश में इलाहाबाद उच्च न्यायालय के लखनऊ बेंच ने हाथरस केस में स्वत: संज्ञान लेते हुये राज्य सरकार को नोटिस भेजा है। सरकार से पूरे प्रकरण की डिटेल रिपोर्ट जमा करने को कहा है। 12 दिसंबर को संबंधित अफसरों को कोर्ट में मौजूद रहने का आदेश दिया है। साथ ही पीड़ित के परिजनों को भी उपस्थित कराने का आदेश दिया है ताकि उनका वर्जन भी अफसरों के वर्जन से मैच किया जा सके।
जहां जिलाधिकारी मीडिया के गायब होने की बात कर रहे हैं वहीं हालात ऐसे हैं कि पीडिता के गांव को चौतरफा सील कर दिया गया है। मीडिया के लोगों को भी गांव नहीं जाने दिया जा रहा है। आज पीड़िता के परिजनों से मिलने जा रहे कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को ग्रेटर नोएडा में ही रोक दिया गया। विरोधी दलों ने भी योगी सरकार को बर्खास्त करने की डिमांड शुरू कर दी है। इस घटना को लेकर पूरे देश में उबाल है। ऐसे में उत्तर प्रदेश के एडीजी प्रशांत कुमार के बयान ने आग में घी का काम किया है। उन्होंने कहा पीडिता के साथ वैसा कुछ भी नहीं हुआ जैसा कहा जा रहा है।

हाथरस प्रकरण में आज गुरुवार की दोपहर उस समय माहौल और गरम हो गया जब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ग्रेटर नोएडा में उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा रोके जाने के बाद पैदल ही हाथरस जाने लगे। पुलिस ने जब उन्हें रोका और वे नहीं रुके तो धक्का दिया गया जिससे राहुल गांधी जमीन पर गिर पड़े। इसके बाद बहुत तमाशा हुआ। राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस घटना के बाद राहुल गांधी ने कहा- मैं पूछना चाहता हूं, क्या इस देश में केवल मोदी जी ही चल सकते हैं? उत्तर प्रदेश सरकार ने हाथरस में 31 अक्टूबर तक धारा 144 प्रभावी कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

six + 4 =